किसानों को आतंकी कहने के विरोध में पंजाब कांग्रेस ने जलाए कंगना रनौत के पुतले

1
Congress party burnt effigies of Kangana Ranaut in Punjab Amritsar to call farmers as terrorists
किसानों को आतंकी कहने के विरोध में पंजाब कांग्रेस ने जलाए कंगना रनौत के पुतले

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के एक विवादित ट्वीट को लेकर देश भर में गुस्से की लहर है। कंगना रनौत ने किसान बिल का विरोध कर रहे किसानों की तुलना आंतकवादियों से की थी।

राज्यसभा में किसान बिल पास होने के बाद देश भर में विरोध प्रदर्शन जारी हैं। वहीँ विपक्षी पार्टियों के सांसदों ने राज्यसभा के बाहर धरना दिया। इसी बीच बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने पीएम मोदी के एक ट्वीट का समर्थन करते हुए किसानों की तुलना CAA का विरोध करने वालों के साथ आतंकी कह कर की है। हालांकि, अभिनेत्री ने बाद में एक ट्वीट कर अपना पक्ष स्पष्ट भी किया। लेकिन उनका ये विवादित ट्वीट काफी लोगों पसंद नहीं आया। अब पंजाब कांग्रेस ने कंगना रनौत के पुतले फूंके हैं।

पंजाब में जलाए गए कंगना रनौत के पुतले

दरअसल, पंजाब के अमृतसर शहर में नेशनल स्टूडेंट यूनियन ऑफ़ इंडिया के पंजाब राज्य अध्यक्ष अक्षय शर्मा की अगुवाई में कंगना रनौत के पुतले जलाए गए। अक्षय शर्मा का आरोप है कि कंगना रनौत ने किसानों को आतंकवादी बता उनका अनादर करते हुए सभी हदें पार कर दी हैं।

कंगना रनौत के पुतले जलाने की तस्वीरें पंजाब कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर एकाउंट पर शेयर की गई हैं।

क्या है मामला ?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा में किसान बिल ध्वनि मत से पास होने के बाद 20 सितंबर को एक ट्वीट किया था। जिसमें उन्होंने लिखा ,” मैं पहले भी कह चूका हूं एक बार फिर कहता हूं। एमएसपी की व्यवस्था जारी रहेगी। सरकारी खरीद जारी रहेगी। हम यहां अपने किसानों की सेवा के लिए हैं। हम अपने अन्नदाता की सहायता के लिए हर संभव प्रयास करेंगे। पीएम मोदी के इस ट्वीट को क्वोट करते हुए कंगना रनौत ने ट्वीट किया था।

कंगना रनौत ने लिखा ,” प्रधानमंत्री जी कोई सो रहा है उसे जगाया जा सकता है। जिसे गलतफहमी हो उसे समझाया जा सकता है। मगर जो सोने की एक्टिंग करे ,ना समझने की एक्टिंग करे ,उसे आपके समझाने से क्या फर्क पड़ेगा ? ये वही आतंकी हैं CAA से एक भी इंसान की नागरिकता नहीं गई मगर इन्होने खून की नदियां बहा दी। ” अब कंगना रनौत के इसी ट्वीट को लेकर बवाल मचा हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here