जम्मू कश्मीर : सरकारी स्कूल टीचर रजनी बाला के बाद अब आतंकवादियों ने कुलगाम जिले के बैंक में घुसकर मैनेजर की हत्या कर दी

जम्मू कश्मीर में स्थानीय और प्रवासी नागरिकों की आतंकवादियों द्वारा हत्याओं के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। आतंकवादियों ने बैंक में घुसकर मैनेजर को गोली मारकर हत्या कर दी है। मृतक मैनेजर विजय कुमार राजस्थान के हनुमानगढ़ का रहने वाला था।

स्कूल शिक्षिका रजनी बाला के बाद अब आतंकवादियों ने कुलगाम जिला में बैंक मैनेजर को बैंक में घुसकर गोली मारकर हत्या कर दी है। बैंक मैनेजर विजय कुमार को गोलियां लगने के बाद अस्पताल ले जाया जा रहा था लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। इससे पहले आतंकवादियों ने कुलगाम में ही एक सरकारी स्कूल टीचर रजनी बाला की गोली मारकर हत्या कर दी थी। पिछले 48 घंटे में घाटी में यह दूसरी घटना घटी है।

इससे पहले बड़गांव में तहसील परिसर में घुसकर कर्मचारी राहुल भट्ट की हत्या कर दी गई थी। इसके बाद कश्मीरी पंडितों का आंदोलन चल रहा है। वह केंद्र सरकार से खुद को सुरक्षा देने की मांग कर रहे हैं। बैंक मैनेजर की हत्या के बाद कश्मीर घाटी में स्थानीय हिंदू और प्रवासी लोगों में खौफ काफी बढ़ गया है।

अब 17 नागरिकों की हत्या

इस साल की शुरुआत से लेकर लगातार स्थानीय और प्रवासी नागरिकों की हत्याएं की जा रही हैं। बीते 5 महीने में अब तक 17 नागरिकों को आतंकवादियों ने मौत के घाट उतार दिया है।

बुधवार को जम्मू कश्मीर प्रशासन ने हिंदुओं और सिखों को सुरक्षित ठिकानों पर पोस्टिंग देने की बात कही थी। लेकिन अब इस मामले ने और तनाव बढ़ा दिया है। अब बैंक के अंदर घुस कर इस तरह की हत्या किए जाने से यह सवाल उठने लगा है कि आखिर प्रवासी और अल्पसंख्यक सुरक्षित कैसे हैं?

बैंक मैनेजर की आतंकवादियों द्वारा हत्या के बाद जम्मू संभाग में प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। लोग सरकार से अपनी सुरक्षा की मांग कर रहे हैं। एक प्रदर्शनकारी ने बताया कि उन्होंने सरकार से सुरक्षित पोस्टिंग की मांग की है। लेकिन कश्मीर में कोई भी स्थान ऐसा नहीं है जहां हम सुरक्षित रह सके। जम्मू में सरकारी कर्मचारी सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन कर रहे हैं।

Comments

Translate »