अरविंद केजरीवाल ने 21 वर्षीय दिशा रवि की गिरफ्तारी को लोकतंत्र पर एक अभूतपूर्व हमला बताया

0
जानिए क्या होता है टूलकिट ? दिशा रवि को दिल्ली पुलिस ने क्यों किया गिरफ्तार?
फोटोः दिशा रवि

अरविंद केजरीवाल ने 21 वर्षीय दिशा रवि की गिरफ्तारी को लोकतंत्र पर एक अभूतपूर्व हमला बतायादिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जलवायु परिवर्तन कार्यकर्ता दिशा रवि को टूल किट मामले में बेंगलुरु से गिरफ्तार किया था। दिशा रवि की गिरफ्तारी को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक ट्वीट करते हुए इससे लोकतंत्र पर अभूतपूर्व हमला बताया है।

दिशा रवि के समर्थन में केजरीवाल ने किया ट्वीट

केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन को लेकर जलवायु परिवर्तन कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग से टूल किट साझा करने के लिए दिशा रवि को शनिवार को बेंगलुरु से दिल्ली पुलिस ने अरेस्ट किया था। जिसको लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक ट्वीट करते हुए दिशा रवि का समर्थन किया और उनकी गिरफ्तारी को लोकतंत्र पर एक अभूतपूर्व हमला बताया।

अरविंद केजरीवाल ने अपने ट्वीट में लिखा,” 21 वर्षीय दिशा रवि की गिरफ्तारी लोकतंत्र पर एक अभूतपूर्व हमला है। हमारे किसानों का समर्थन करना कोई अपराध नहीं है।” बता दें इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने दिल्ली पुलिस द्वारा टूलकिट केस की जांच में 21 वर्षीय जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि की गिरफ्तारी की निंदा की है।

पी चिदंबरम ने किया समर्थन में ट्वीट 

कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने अपने ट्वीट में लिखा,” यदि माउंट कार्मेल कॉलेज की 22 वर्षीय छात्रा और जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि देश के लिए खतरा बन गई है, तो भारत बहुत ही कमजोर बुनियाद पर खड़ा है। चीनी सैनिकों द्वारा भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की तुलना में किसानों के विरोध का समर्थन करने के लिए लाया गया एक टूलकिट अधिक खतरनाक है।”

पी चिदंबरम ने दिशा की गिरफ्तारी का विरोध करते हुए एक और ट्वीट में लिखा,” भारत बेतुका रंगमंच बन रहा है और यह दुखद है कि दिल्ली पुलिस उत्पीड़कों का औजार बन गई है। मैं दिशा रवि की गिरफ्तारी की कड़ी निंदा करता हूं और सभी छात्रों और युवाओं से आग्रह करता हूं कि वह निरंकुश शासन के खिलाफ आवाज उठाएं।”

बता दें दिशा रवि बेंगलुरु के एक प्राइवेट कॉलेज से बी बी ए की डिग्री होल्डर है और वह फ्राईडेज फॉर फ्यूचर इंडिया नामक संगठन की स्थापक सदस्य भी है।

दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त जनसंपर्क अधिकारी अनिल मित्तल ने अपने बयान में कहा कि टूलकिट दस्तावेज से संबंधित अपराधिक साजिश से जुड़ी जांच के मामले में दिशा रवि को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया गया है, वह टूलकिट संपादन करने वालों में से एक है और दस्तावेज को बनाने के फैलाने के मामले में मुख्य साजिशकर्ता है, दिशा रवि का लैपटॉप और मोबाइल फोन फॉरेंसिक जांच के लिए जब्त कर लिया गया है।

रो पड़ी दिशा

गिरफ्तारी के बाद जिस समय दिशा रवि को अदालत में पेश किया गया तो है रो पड़ी और न्यायाधीश से कहा कि उन्होंने केवल दो लाइन हीं संपादित की थी और वह किसान आंदोलन का समर्थन करना चाहती थी। डीएम देव सरोहा ने दिल्ली पुलिस को दिशा से पूछताछ के लिए 5 दिनों की हिरासत की अनुमति दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here