Coronavirus की वजह से देश हुआ LockDown,संक्रमित और मरने वालों की संख्या बढ़ी,जानें ताजा अपडेट्स

महामारी कोरोना वायरस की वजह से पूरा देश लॉकडाउन हो गया है। भारत में अब तक 470 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। इस वायरस की वजह से देश में मरने वालों की संख्या बढ़कर 9 हो गई है।

कोरोना वायरस के 470 मामले दर्ज

मरने वालों की संख्या 9 हुई

भारत में कोरोना वायरस की वजह से 2 और लोगों की मौत हो गई है। इस वायरस के वजह से देश में मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 9 हो गया है। देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के 75 और नए मामले दर्ज किए गए हैं, इसके साथ अब देश में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 470 हो गई है। इन संक्रमित लोगों में 41 विदेशी नागरिक शामिल हैं।

आज पश्चिम बंगाल और हिमाचल प्रदेश में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई है। कोरोना वायरस महामारी के चलते देश के 30 राज्यों के 548 जिलों में लॉकडाउन का ऐलान कर दिया गया है। देश में मिज़ोरम और सिक्किम केवल ऐसे दो राज्य हैं जहां कोई भी मामला दर्ज नहीं हुआ है।

सरकार हुई सख़्त

कोरोनावायरस की भयानक स्थिति को देखते हुए केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को कानून का उल्लंघन करने वालो के खिलाफ सख़्ती से करवाई करने का निर्देश दिया है। केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों से कहा है कि उन इलाकों में पूरी तरह से लॉकडाउन करें ,जहां इसकी घोषणा की गई है। महामारी एक्ट और धारा 144 का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ क़ानूनी करवाई की जाएगी।

WHO के आंकड़े

विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक ने COVID-19 के प्रकोप पर चिंता जताते हुए कहा कि यह महामारी तेजी से फैल रही है। WHO के अनुसार विश्व भर में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 350,000 का आंकड़ा पार कर गई है। जिसमें 16,500 से अधिक मरीज़ों की मौत हो चुकी हैं और 100,000 अधिक लोगों के ठीक होने की भी सुचना है।

जरूरी बातें

हालांकि यह महामारी दिन प्रति दिन अपना विराल रूप अख्तियार करती जा रही है और अभी तक इसकी कोई वैक्सीन भी तैयार नहीं हुई है। कोरोना वायरस से बचने के लिए हम सभी स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बताए दिशा निर्देशों का पालन कर इस बीमारी को फैलने से रोक सकते हैं।

जिसमें ,नियमित साबुन से हाथ धोना। छींकते या खांसते समय अपनी कलाई का इस्तेमाल करना ,अनावश्यक यात्रा से बचना ,जब बहुत तक ज्यादा जरूरी न हो तब घर से न निकले। सूखी खांसी और तेज़ बुखार होने पर नज़दीकी अस्पताल में या डॉक्टर को दिखाएं। अफ़वाहों पर ध्यान न दें। सरकार द्वारा लागू किए गए लॉकडाउन का पालन करें।

Comments

Translate »