फर्जी पासपोर्ट घोटाला ,दिल्ली पुलिस ने 6 को दबोचा ,62 पासपोर्ट बरामद

दिल्ली पुलिस ने रविवार को इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स के कोच सहित 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उनके कब्जे से 62 पासपोर्ट जब्त किए।

आईईएलटीएस कोच

गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों की पहचान सौरव, एक आईईएलटीएस कोच,विक्की एक हर्बल उत्पाद व्यवसायी ,सचिन कुमार और मुकेश गोयल नाम के दो एजेंट और एक दंपत्ति जिनकी पहचान रविंदर सिंह और सुनीता कुमारी के रूप में हुई है।

पुलिस उपयुक्त संजय भाटिया

इंदिरा गांधी अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर तैनात पुलिस उपयुक्त संजय भाटिया के अनुसार ,एक मार्च को एक संदिग्ध नकली और जाली भारतीय आव्रजन टिकट के बारे में एक शिकायत प्राप्त हुई थी। ये लोग कनाडा यात्रा के वीसा के बल पर कनाडा जाने की तैयारी कर रहे थे। ये भी पढ़ें : प्याज की बढ़ती कीमतों को लेकर डॉक्टर कुमार विश्वास ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पर ली चुटकी

दंपति गिरफ्तार

दंपति गिरफ्तार किए किए गए दंपति के दस्तावेजों की जांच के दौरान पाया गया कि पासपोर्ट पर चिपकाए गए आव्रजन टिकट नकली और जाली थे। इससे पहले दंपति की यात्रा का भी कोई रिकॉर्ड नहीं मिला। ये भी पढ़ें सनी लियॉन का जलेबी डांस वीडियो सोशल मीडिया पर खूब हो रहा है वायरल

जांच के दौरान पता चला कि रविंदर सिंह और सुनीता कुमारी नाम के दंपति कनाडा में रहना चाहते थे। दंपति ने अपने दोस्त श्याम से सम्पर्क किया था जिसने विक्की नाम के एजेंट से मिलवाया। विक्की हरियाणा के करुक्षेत्र में एक दुकान चलाता है। ये भी पढ़ें दिल्ली हिंसा में पुलिसकर्मी पर पिस्तौल तानने वाले शाहरुख़ को क्राइम ब्रांच ने शामली से किया गिरफ्तार

“विक्की ने कनाडाई वीजा की व्यवस्था करने के लिए सिंह दंपति से 6 लाख रुपए लिए। विक्की ने सचिन नाम के एक एक व्यक्ति से सिंह दंपति को मिलवाया। सचिन उनको वीजा दिलाने के लिए चंडीगढ़ ले गया। उन्होंने कहा कि विक्की ने पूछताछ के दौरान खुलासा किया कि यह सचिन था जिसने नकली आव्रजन टिकटों की खरीद की थी और पासपोर्ट पर समान रखा था। सचिन को 27 मार्च को गिरफ्तार किया गया था।” श्री भाटिया ने बताया।

पासपोर्ट

गिरफ्तार सचिन ने खुलासा किया कि उसने सिंह दंपति के पासपोर्ट सौरव नाम के शख्स को दिए थे जिसने पासपोर्ट पर जाली आव्रजन टिकट लगाया जिससे वे आम यात्रियों की तरह दिखते। उनके कहने पर, गोयल को गिरफ्तार कर लिया गया और उसने खुलासा किया कि आज तक उसने सौरव और उसके गुर्गों के लिए 20-25 नकली आव्रजन और बैंक टिकट तैयार किए थे। उन्होंने कहा।

विक्की लोगों को वीजा देने और विदेश भेजने के बहाने लालच देता था। वह सचिन के साथ ग्राहकों की मीटिंग फिक्स करवाता था। सचिन, जो मोहाली और कुरुक्षेत्र में विभिन्न एजेंटों के संपर्क में था, फाइल तैयार करने के बहाने ग्राहकों का पासपोर्ट लेता था। उसके बाद विभिन्न देशों में नकली पासपोर्ट के जरिए भेजने की व्यवस्था करता था।

Comments

Translate »