जिस पत्नी की हत्या के आरोप में पति को हुई जेल की सजा वही मिली बॉयफ्रेंड के साथ

उड़ीसा के केंद्रपाड़ा में एक ऐसी घटना घटी है जिसने सभी को हैरान करके रख दिया। साल 2013 में जिस पत्नी की हत्या के केस में पति ने जेल की सजा काटी उसी पत्नी को पुलिस की मदद से खोज निकाला।

पत्नी की हत्या के आरोप में जेल की सजा काट चुके शख्स को उसकी पत्नी सात साल बाद बहुत खोजबीन करने के बाद मिली। पत्नी अपने प्रेमी साथ मिली और इसी के साथ फर्जी केस का खुलासा हुआ। टाइम्स ऑफ़ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार , अभय सुतार ने 7 फरवरी 2013 को इतिश्री मोहराना के साथ शादी की थी। अभय केंद्रपाड़ा के चूलिया गांव का रहने वाला है। कथित तौर पर इतिश्री को अभय के साथ शादी करने पर मजबूर किया गया था।

शादी के दो महीने बाद ही इतिश्री लापता हो गई थी। जिसके बाद अभय ने 20 अप्रैल 2013 को पटकुरा पुलिस थाने  में पत्नी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। 14 मई 2013 को इतिश्री के पिता ने जवाबी एफआईआर दर्ज करवाते हुए दावा किया कि उनकी बेटी को अभय ने दहेज़ के लिए प्रताड़ित किया था। अपनी शिकायत में इतिश्री के पिता प्रह्लाद मोहराना ने दावा किया था कि उनकी बेटी को अभय मार डाला है।

इस एफआईआर के बाद पुलिस ने अभय को गिरफ्तार कर लिया था। जिसके एक महीने बाद अभय को जमानत पर रिहा कर दिया गया था। जिसके बाद उसने अपनी पत्नी की तलाश शुरू कर दी ,क्योंकि उसे शक था कि उसकी पत्नी भागी है। आखिरकार अभय सात साल बाद अपनी पत्नी के बारे में जानकारी हासिल करने में कामयाब हुआ। उसे पता चला कि उसकी पत्नी पीपली में अपने बॉयफ्रेंड के साथ रह रही है

इतिश्री के बारे में जानने के बाद अभय ने पुलिस को फोन किया। जिसके बाद पुलिस अभय को पीपली ले गई। जहां पुलिस ने इतिश्री को उसके प्रेमी के साथ गिरफ्तार कर लिया। इतिश्री के बॉयफ्रेंड की पहचान राजीव लोचन मोहराना के रूप में हुई है। मुकेश अंबानी सबसे अमीर भारतीय,भारत में हैं कुल 138 अरबपति

पटकुरा में तैनात वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सुजीत प्रधान ने टाइम्स ऑफ़ इंडिया को बताया ,” दोनों को सोमवार को अदालत में पेश किया गया था। इतिश्री ने अपने बयान में कहा है कि वह शादी से पहले राजीव के साथ रिलेशनशिप में थी। लेकिन उसके माता पिता ने उसे अभय के साथ शादी करने के लिए उसे मजबूर कर दिया था। “

Comments

Translate »