रिंकू शर्मा हत्या मामले में दिल्ली पुलिस ने कहा कि रेस्त्रां बंद करने को लेकर हुआ था झगड़ा

0

नई दिल्ली के मंगोलपुरी में रिंकू शर्मा नाम के एक 25 वर्षीय युवक की हत्या का मामला राजनीतिक तूल पकड़ता जा रहा है। बुधवार शाम को हुई थी हत्या।

राम मंदिर के चंदे से जोड़ा गया

रिंकू शर्मा के भाई ने इस हत्या को राम मंदिर के चंदे से जोड़ा है जबकि दिल्ली पुलिस ने कुछ और ही बयान दिया है। मंगोलपुरी में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता रिंकू शर्मा की हत्या का मामला सियासी घमासान का केंद्र बना हुआ है। मृतक रिंकू शर्मा के परिवार और विश्व हिंदू परिषद का आरोप है कि राम मंदिर निर्माण से जुड़े होने की वजह से उसकी हत्या की गई है। दिल्ली पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की तफ्तीश कर रही है।

मंगोलपुरी में हुई रिंकू शर्मा की हत्या

बता दे बुधवार रात को मंगोलपुरी में रिंकू शर्मा नामक एक युवक की 4 लोगों ने चाकू से हत्या कर दी थी। पुलिस का कहना है कि रिंकू के दोस्त ने अपने तीन दोस्तों के साथ मिलकर हत्या की है। यह घटना बर्थडे पार्टी में रेस्त्रां खोलने को लेकर हुए विवाद में घटी है।

सभी चारों आरोपी पकड़े गए

पुलिस ने सभी चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने जिन चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। उनकी पहचान मोहम्मद दानिश, मोहम्मद इस्लाम, जाहिद और मोहम्मद मेहताब के रूप में हुई है। आरोपी मेहताब कक्षा 12 में पढ़ता है. जाहिद एक कॉलेज छात्र है। जबकि दानिश और इस्लाम दर्जी का काम करते हैं। दिल्ली पुलिस ने कहा कि रिंकू शर्मा का एक बर्थडे पार्टी में रेस्त्रां खोलने को लेकर झगड़ा हुआ था, जिसके बाद वह जन्मदिन पार्टी से घर जा रहा था। तभी दानिश ने उसे रोक दिया इसी दौरान दोनों के बीच झगड़ा हुआ और दानिश ने अपने तीन दोस्तों के साथ मिलकर रिंकू पर हमला कर दिया और चाकू से गोद दिया।

आम आदमी पार्टी का बयान

दिल्ली की सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी ने रिंकू शर्मा हत्या मामले में कहा कि इस सांप्रदायिक रंग ना दिया जाए। आम आदमी पार्टी ने अपने आधिकारिक बयान में कहा कि यह जिसने भी किया है। उन्हें सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए। उन्हें जेल में डालना चाहिए और हिंदुस्तान के कानून में जो भी सबसे कठिन धारा है। उसके हिसाब से कार्रवाई होनी चाहिए। इस मामले को धार्मिक ना बनाया जाए। जो भी दोषी हैं उन्हें फांसी दी जाए।

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा का बयान

जबकि भारतीय जनता पार्टी के नेता कपिल मिश्रा ने एक ट्वीट कर कहा कि अगर रिंकू का नाम रेहान होता तो उसकी हत्या देश की सबसे बड़ी न्यूज़ होती। हर नेता उसके दरवाजे पर होता। रिंकू जी की हत्या दिल्ली में ऐसा पहला अपराध नहीं है। अंकित सक्सेना, ध्रुव त्यागी ,डॉ नारंग, राहुल ,अंकित शर्मा सबको ऐसे ही मारा गया है। आखिर क्यों ?जस्टिस फॉर रिंकू शर्मा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here