Valentine’s Day : जानिए 14 फरवरी को ही क्यों मनाया जाता है वैलेंटाइन डे

0
Know why Valentine's Day is celebrated only on 14 February
वैलेंटाइन डे

14 फरवरी को मनाया जाता है वैलेंटाइन डे

प्रेम को बढ़ावा देने का पर्व है वैलेंटाइन डे

7 फरवरी से शुरू होता है वैलेंटाइन डे

रोम के राजा को लगता था कि प्रेम और विवाह से पुरुषों की बुद्धि और शक्ति दोनों ही खत्म होती है। इसी वजह से उसके राज्य में सैनिक और अधिकारी शादी नहीं कर सकते थे।

14 फरवरी को देश दुनिया के कई बड़े हिस्सों में वैलेंटाइन डे मनाया जाता है। इसे प्यार का दिन कहा जाता है। वैलेंटाइन डे के अवसर पर लोग अपने पार्टनर को कुछ खास महसूस कराने के लिए उन्हें उपहार और सरप्राइज देते हैं। कहा जाता है कि प्यार का इज़हार करना और अपने पार्टनर को यह महसूस करना कि उनसे कितना प्यार करते हैं। वैलेंटाइन डे 7 फरवरी को रोज़ डे से शुरू होने के एक हफ्ते बाद 14 फरवरी को खत्म होता है।

‘,ऑरिया ऑफ जैकोबस डी वाराजिन’ नाम की एक बुक के अनुसार रोम के एक पादरी थे संत वैलेंटाइन। वह दुनिया में प्रेम को बढ़ावा देने के समर्थक थे। उनके अनुसार प्रेम में ही जीवन था। लेकिन इसी शहर में एक राजा क्लॉडियस को उनकी यह बात समझ नहीं आती थी। राजा  की सोच थी कि प्रेम और विवाह से पुरुषों की बुद्धि और शक्ति दोनों खत्म हो जाती है। इसी वजह से उसके राज्य में सैनिक और अधिकारी शादी नहीं कर सकते थे ।

संत वैलेंटाइन ने राजा क्लॉडियस के इस आदेश का विरोध किया और रोम के लोगों को प्यार और शादी के लिए प्रेरित किया। इतना ही नहीं उन्होंने कई अधिकारियों और सैनिकों की शादियां भी करवाई। वैलेंटाइन की इस बात से राजा भड़क उठे। राजा ने संत वैलेंटाइन को 14 फरवरी 269 ने फाँसी पर चढ़वा दिया। उस दिन से हर साल 14 फरवरी को प्यार के दिन के तौर पर वैलेंटाइन डे मनाया जाने लगा।

बताया जाता है कि सेंट वैलेंटाइन ने अपनी मौत के समय जेलर की अंधी बेटी जैकोबस अपनी आंखे दान की थी। सेंट वेलेंटाइन ने जैकोबस को एक पत्र भी लिखा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here