नवजोत सिंह सिद्धू ने दिया पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष पद से इस्तीफा

पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। सिद्धू ने अपना इस्तीफा हाल ही में पंजाब के मुख्यमंत्री बने चरणजीत सिंह चन्नी के केबिनेट विस्तार के बाद दिया है।

पंजाब कांग्रेस की कलह खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। राज्य में कैटेन अमरिंदर सिंह के सीएम पद से हटाए जाने के बाद  चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाया गया। चन्नी को सीएम ऐसे समय में बनाया गया जब प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने में महज कुछ ही महीने बाकि रह गए हैं। हाल ही में चरणजीत सिंह चन्नी ने अपने मंत्रिमंडल में बदलाव करते हुए कुछ नए चेहरों को शमिल किया। उन्होंने कैप्टेन अमरिंदर सिंह के खास लोगों को मंत्रिमंडल से हटाकर नए चेहरों को जगह दी है। अब सीएम पद की दौड़ में नाम आ चुके नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने प्रदेशाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है।

नवजोत सिंह सिद्धू ने अपना इस्तीफा देने की वजह समझौते से उपजा पुरुष चरित्र बताया है। उन्होंने अपना इस्तीफ देते हुए लिखा कि मैं कभी भी पंजाब के भविष्य और भलाई के लिए कभी समझौता नहीं कर सकता। सिद्धू ने अपना इस्तीफा कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजा है।

नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने इस्तीफे में लिखा ,”मनुष्य के चरित्र का पतन समझौतों से शुरू होता है और मैं पंजाब के भविष्य और पंजाब के कल्याण के अजेंडे के साथ समझौता नहीं कर सकता। इसलिए मैं पंजाब के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देता हूं। कांग्रेस की सेवा करता रहूंगा। “

Comments

Translate »