निर्भया केस की वकील सीमा लड़ेंगी हाथरस गैंगरेप का शिकार हुई गुड़िया का केस

0
निर्भया केस की वकील सीमा लड़ेंगी हाथरस गैंगरेप का शिकार हुई गुड़िया का केस

यूपी के हाथरस में 14 सितंबर को एक दलित युवती का चार दरिंदों ने गैंगरेप किया था। जिसके बाद उसकी अस्पताल में 29 सितंबर को मौत हो गई। दरिंदों की हवस का शिकार हुई युवती का केस निर्भया मामले की वकील रही सीमा समृद्धि लड़ेंगी।

निर्भया मामला

16 दिसबर 2012 में दिल्ली के मुनिरका में निर्भया (ज्योति सिंह 23 ) का 6 वहशी दरिंदों ने रेप किया था। निर्भया को रेप के बाद बुरी तरह मारा-पीटा गया था। ज्यादा चोटें आने के कारण निर्भया का दो दिन बाद निधन हो गया था। हालांकि, निर्भया को इलाज के लिए सिंगापुर भेजा गया था लेकिन बच नहीं पाई थी।

वकील सीमा समृद्धि

निर्भया को इंसाफ दिलाने के लिए देश भर में कैंडल मार्च हुए ,विरोध प्रदर्शन हुए। तब कहीं जाकर उनका केस अदालत में दाखिल हुआ। निर्भया को इंसाफ मिलने में सात साल का समय लगा था। आखिकार,अदालत ने अपना फैसला सुनाते हुए निर्भया के दोषियों को फांसी की सजा दी थी। अब निर्भया के केस में अहम भूमिका निभाने वाली वकील सीमा समृद्धि हाथरस में गैंगरेप का शिकार हुई मनीषा वाल्मीकि का केस लड़ेंगी।

क्या है मामला ?

अपनी मां के साथ पशुओं के लिए चारा लेने खेत में गई 19 वर्षीय गुड़िया का चार दरिंदों ने14 सितंबर 2020 को रेप किया था। दरिंदों ने युवती की रीड की हड्डी तोड़ दी थी,उसकी जीभ काट दी थी। रेप के बाद उसे बुरी तरह मारा-पीटा गया। घायल युवती को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में इलाज के लिए रेफर किया गया था ,जहां उसकी मौत हो गई थी। इसी केस को अब निर्भया का केस लड़ने वाली वकील सीमा समृद्धि लड़ेंगी। अब देखने वाली बात ये होगी की क्या गुड़िया को इंसाफ मिल पाएगा या निर्भया मामले की तरह केस क़ानूनी दांव-पेंचों में उलझकर रह जाएगा ? क्योंकि देर से मिला इंसाफ,इंसाफ नहीं होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here