Paytm के CEO विजय शेखर शर्मा को दिल्ली पुलिस ने किया था गिरफ्तार, जानिए क्या है वजह

ऑनलाइन पेमेंट एप पेटीएम के संस्थापक और सीईओ विजय शेखर शर्मा को दक्षिण दिल्ली पुलिस ने फरवरी महीने में गिरफ्तार किया था। हालांकि बाद में शेखर शर्मा को जमानत पर रिहा कर दिया गया था। विजय शेखर शर्मा पर तेज रफ्तार और लापरवाही से गाड़ी चलाने के आरोप लगा था । यह घटना 22 फरवरी 2022 को हुई थी। डीसीपी बनिता के ड्राइवर दीपक कुमार ने इस मामले में एफ आई आर दर्ज कराई थी।

एटीएमसी के सीईओ विजय शंकर शर्मा पर 22 फरवरी को रैश ड्राइविंग करने का आरोप लगा था। जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। हालांकि बाद में उन्हें जमानत दे दी गई थी। दरअसल, मदर इंटरनेशनल स्कूल के सामने शर्मा ने अपनी जगुआर लैंड रोवर कार से दक्षिण दिल्ली की डीसीपी बनिता मेरी जेकर की कार को तेज रफ्तार में टक्कर मार दी थी। उस समय डीसीपी जेकर का ड्राइवर दीपक अरविंदो मार्ग पर कार में पेट्रोल भरवाने के लिए गया था। टक्कर मारने के बाद शर्मा अपनी कार छोड़कर भाग गए था।

बाद में ड्राइवर दीपक ने कार का नंबर नोट कर पूरी बात डीसीपी बनितामेरी जेकर को बताई। डीसीपी के कहने पर दीपक ने मालवीय नगर थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 279 के तहत मामला दर्ज कराया। कार का नंबर गुरुग्राम की एक कंपनी का निकला। कंपनी के लोगों ने बताया कि कार्यालय 2 में रहने वाले विजय शेखर शर्मा के पास यह कार है। उसके बाद विजय को थाने बुलाकर गिरफ्तार कर लिया गया। बाद में उन्हें जमानत पर छोड़ा गया। क्योंकि यह जमानती धारा थी।

दिल्ली पुलिस प्रवक्ता सुमन ने इस मामले की पुष्टि की करते हुए कहा कि पुलिस ने विजय शेखर शर्मा को तेज गति से लापरवाही से गाड़ी चलाने के मामले में गिरफ्तार किया था और बाद में उन्हें जमानत पर छोड़ दिया था ।

Comments

Translate »