Coronavirus:लॉकडाउन को कई लोग अभी भी गंभीरता से नहीं ले रहे हैं :पीएम मोदी

भारत में कोरोना वायरस का ख़तरा दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। जिसके चलते देश कई राज्यों को लॉकडाउन किया जा चूका है। पीएम मोदी ने ट्विटर पर लॉकडाउन को गंभीरता से लेने की बात कही है।

वायरस का जीवनकाल

डॉक्टरों के अनुसार कोरोना वायरस 10 से 15 दिन तक जीवित रहता है। अगर इस वायरस के संक्रमण को हम इतने दिन तक फैलने से रोकने में कामयाब हो जाते हैं ,तो इस बीमारी पर काबू पाया जा सकता है।

आपको बता दें, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित किया है। किसी भी बीमारी को महामारी तब कहा जाता है जब वह कई देशों में फैल जाती है और मरने वालों की संख्या बढ़ जाती है। इस वायरस की अभी तक कोई वैक्सीन तैयार नहीं हुई है। सिर्फ सावधानी और स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बताए गए तरीकों को अपना कर ही इससे बचा जा सकता है।

लॉकडाउन

यही कारण है कि देश के कई शहरों को लॉकडाउन कर दिया गया है। सरकार ने 31 मार्च तक यात्री ट्रेनों,अंतराज्यीय बसों और महानगरों में चलने वाली सभी मेट्रो ट्रेनों को रोक दिया है। कई राज्य सरकारों ने कई जिलों को पूर्ण रूप से बंद कर दिया है।

पीएम मोदी की अपील

पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के आगामी खतरे को देखते हुए लोगों को आगाह किया है। उन्होंने इस बारे में एक ट्वीट किया। पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा ,” लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं हैं। कृपया करके अपने आपको बचाएं ,अपने परिवार को बचाएं। निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। राज्य सरकारों से मेरा अनुरोध है कि वो नियमों और क़ानूनों का पालन करवाएं।

Comments

Translate »