बड़ा खुलासा: आंदोलनकारी किसान नेताओं की हत्या के लिए पुलिस ने हायर किए शूटर:वीडियो

0
बड़ा खुलासा: आंदोलनकारी किसान नेताओं की हत्या के लिए पुलिस ने हायर किए शूटर:वीडियो
फोटोः पकड़ा गया आरोपी

बड़ा खुलासा: आंदोलनकारी किसान नेताओं की हत्या के लिए पुलिस ने हायर किए शूटर:वीडियोकेंद्र सरकार द्वारा पारित तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान नेताओं की हत्या करने की साजिश का खुलासा हुआ है। किसानों ने आरोपी को पुलिस के हवाले किया।

कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ देश भर के किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। पिछले साल जब पंजाब और हरियाणा के किसानों ने दिल्ली के लिए कूच किया था। तब इस बात की आशंका हो गई थी कि देश में एक बड़ा आंदोलन होने जा रहा है।

किसान आंदोलन के दो महीने

हरियाणा पंजाब उत्तर प्रदेश केरल राजस्थान सहित देश के बाकी राज्यों के किसान लगभग पिछले 2 महीने से दिल्ली में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। हालांकि किसान नेताओं और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के बीच इस दौरान 11 बार वार्तालाप हो चुका है। लेकिन सभी दौर बेनतीजानिकले।

2 महीने के आंदोलन के दौरान केंद्र सरकार ने विरोध प्रदर्शन को खत्म करने के लिए कई हथकंडे भी अपनाएं हैं। लेकिन किसान आंदोलन उल्टा जंगल की आग की तरह फैलता जा रहा है। इस बार किसानों ने एक ऐसा सबूत पकड़ा है जिसके आधार पर कहा जा सकता है कि पुलिस वाले किसानों के खिलाफ बड़ी साजिश रच रहे हैं।

दरअसल शुक्रवार देर रात किसानों ने आधी रात को आपातकालीन प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए दावा किया कि वह जिस शख्स मीडिया के सामने पेश कर रहे हैं। वह अपराधिक गतिविधियों को अंजाम देने आया था। वह भी पुलिस के इशारे पर।

आरोपी का कबूलनामा

मुंह पर कपड़ा बांधकर जब पकड़े गए आरोपी को मीडिया के सामने पेश किया तो उसने कबूल किया कि वह और उसके साथी 23 से 26 जनवरी के बीच किसान नेताओं की हत्या करने के लिए पुलिस द्वारा हायर किए गए थे। पकड़े गए युवक ने  प्रेस के सामने कहा कि पुलिस वाले ने उसे इस काम के लिए पैसे दिए थे, हमारे गैंग में 2 लड़कियों सहित कुल 10 लोग हैं।

पकड़े गए आरोपी ने वीडियो में चार लोगों को शूट करने की बात कही है। आरोपी ने राई पुलिस थाने के एसएचओ प्रदीप सिंह का नाम लिया है। जिसने उन्हें हथियार और पैसा दिया। आरोपी ने बताया कि जब भी एसएचओ हमसे मिलने आता था वो मुंह ढककर आता था।

फ़िलहाल, किसान नेताओं ने आरोपी को पुलिस के हवाले कर दिया है और पुलिस मामले की जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here