लखीमपुर खीरी हिंसा कांड में मारे गए किसानों की अंतिम अरदास में पहुंची प्रियंका गांधी

0
लखीमपुर खीरी हिंसा में कांड में मारे गए किसानों की अंतिम अरदास में पहुंची प्रियंका गांधी

पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के तीन विवादास्पद कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान मंगलवार को लखीमपुर खीरी हिंसा में जान गवाने वाले 4 किसानों को श्रद्धांजलि देने के लिए शहीद किसान दिवस मना रहे हैं। इस कार्यक्रम में कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी शामिल हुई और उन्होंने तिकुनिया गांव में किसानों को अंतिम अरदास प्रार्थना सभा में श्रद्धांजलि दी।

उत्तर प्रदेश पुलिस ने प्रियंका गांधी के काफिले को आगे जाने दिया। लेकिन कांग्रेस कार्यकर्ताओं व अन्य वाहनों को टोल प्लाजा पर रोक दिया। प्रियंका गांधी के काफिले में सिर्फ 9 वाहनों को जाने की इजाजत दी गई।

कांग्रेस पार्टी के सूत्रों ने बताया कि पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी सहित कांग्रेस नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल बुधवार के दिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेगा और लखीमपुर खीरी हिंसा और तथ्यों का एक ज्ञापन सौंपेगा। 7 सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल में कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता एके एंटनी और गुलाम नबी आजाद लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और केसी वेणुगोपाल शामिल होंगे।

गौरतलब है कि तीन अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा में 4 किसानों की मौत हो गई थी। हिंसा ने उस समय उग्र रूप ले लिया जब केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा की गाड़ियों के काफिले ने शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे किसानों को पीछे से गाड़ी चढ़ाकर कुचल दिया। जिसके बाद वहां हिंसा फैल गई और इस हिंसा में चार अन्य लोगों की मौत हो गई थी। इस हिंसा के एक आरोपी अंकित दास ने भी आज सरेंडर करने से पहले सीजेएम कोर्ट का दरवाजा  खटखटाया है। बता दें, मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को कोर्ट ने 3 दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here