दैनिक भास्कर ग्रुप के देश भर में विभिन्न ठिकानों पर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की रेड

देशभर में दैनिक भास्कर ग्रुप के विभिन्न कार्यालयों पर आयकर विभाग की छापेमारी जारी है। यह छापेमारी इनकम टैक्स चोरी के मामले की जांच के लिए की जा रही है।

समाचार पत्र दैनिक भास्कर पर आईटी के रेड 

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की टीम ने दिल्ली, गुजरात ,मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और राजस्थान में स्थित दैनिक भास्कर ग्रुप के ठिकानों पर छापेमारी की है। आईटी डिपार्टमेंट की तरफ से यह नहीं बताया गया कि यह छापेमारी की इस मामले में की जा रही है।

देश भर में 5 समाचार पत्रों का प्रकाशन करता है दैनिक भास्कर 

भारत के प्रमुख समाचार पत्र दैनिक भास्कर ग्रुप के देश में कुल 5 समाचार पत्रों का प्रकाशन होता है। गुजराती मराठी और हिंदी भाषा में उनके 65 संस्करण देश के अलग-अलग हिस्सों से प्रकाशित होते हैं। दैनिक भास्कर समाचार पत्र ग्रुप ने इस वर्ष अप्रैल और मई में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान बड़े पैमाने पर कवरेज की थी। इतना ही नहीं प्रसिद्ध अखबार की तरफ से ऐसी ही कई रिपोर्ट प्रकाशित की गई है जिनमें केंद्र सरकारी आंकड़ों पर सवाल उठाते हुए अपने प्रकाशन में ज्यादा मौतों की संख्या बताई थी।

दैनिक भास्कर ग्रुप के कई कार्यालयों पर आईटी डिपार्टमेंट के छापेमारी चल रही है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट,  नई दिल्ली मध्य प्रदेश राजस्थान गुजरात और महाराष्ट्र में स्थित दैनिक भास्कर के कार्यालयों की तलाशी ले रही है।

कोरोना की तबाही पर रिपोर्टिंग में सबसे आगे रहा 

भारत के सबसे बड़े अखबार समूह में से एक दैनिक भास्कर कोविड-19 की दूसरी लहर की तबाही पर रिपोर्टिंग करने में सबसे आगे रहा था। दैनिक भास्कर ने उत्तर प्रदेश गुजरात सहित कई राज्यों में कोरोना से मरने वाले लोगों के सही आंकड़े और तस्वीरें दिखाते हुए केंद्र सरकार और राज्य सरकारों को आईना दिखाया था।

दैनिक भास्कर ने कोरोना महामारी के दौरान केंद्र सरकार के दावों पर आलोचनात्मक रुख वाली कई रिपोर्टों को प्रकाशित किया था। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के एक अधिकारी ने न्यूज़ एजेंसी पीटीआई को बताया कि मीडिया समूह दैनिक भास्कर के भोपाल जयपुर और अन्य स्थानों पर छापेमारी चल रही है।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल सहित इंदौर में भी समाचार पत्र के दफ्तर पर छापे मारे जा रहे हैं। इसके अलावा आयकर विभाग के अधिकारी अखबार ग्रुप के प्रमोटरों के आवास की भी तलाशी ले रहे हैं। आयकर विभाग के सूत्रों का कहना है कि दैनिक भास्कर ग्रुप द्वारा टैक्स चोरी की सूचना के बाद ही यह छापेमारी की गई है।

Comments

Translate »