‘कसाब को भी इतनी सुरक्षा नहीं दी गई थी जितनी इनको दी गई है’ बागी विधायकों पर संजय राउत का निशाना

फ्लोर टेस्ट से पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने पार्टी पार्टी से बगावत कर बीजेपी के साथ हाथ मिलाने वाले विधायकों पर निशाना साधा है। संजय राउत ने कहा कि इतनी सुरक्षा तो आतंकवादी कसाब को भी नहीं दी गई थी जितनी इन विधायकों की दी गई।

शिवसेना नेता संजय राउत ने पार्टी से बगावत कर बीजेपी के साथ हाथ मिलाकर महाराष्ट्र में सरकार बनाने वाले शिंदे गुट पर निशाना साधा है। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार संजय राउत ने कहा ,” पार्टी में लोग आते हैं ,चले जाते हैं। ऐसा हर पार्टी में होता है। हमारे लोग भी गए लेकिन यह चुनकर वापस कैसे आएंगे ? यह लोग शिवसेना के नाम और हमारे कार्यकर्ताओं की मेहनत से चुनकर आए थे। कोई प्रलोभन या किसी एजेंसी के दबाव की वजह से यह लोग चले गए। यह अस्थायी व्यवस्था है। ”

कसाब को भी इतनी सुरक्षा नहीं दी गई थी

संजय राउत ने आगे कहा ,” जो लोग छोड़कर गए हैं उनका गांव में घूमना भी मुश्किल है। कसाब को भी इतनी सुरक्षा नहीं दी गई थी। जितनी इन लोगों ( विधायकों ) को दी गई है। जब यह लोग मुंबई में उतरे तो लगभग आर्मी को बुला लिया गया था। गुवाहाटी में भी देखा होगा कि किस तरह घेरबंदी की गई थी। आपको किस बात का डर है ? ”

दूसरी तरफ सदन में फ्लोर टेस्ट से पहले बीजेपी नेता रावसाहब पाटिल दानवे ने कहा ,” आज महाराष्ट्र की एकनाथ शिंदे सरकार के लिए अंतिम परीक्षा का दिन है। हम महाराष्ट्र फ्लोर टेस्ट में 100 फीसदी जीतेंगे। ”

सामना में साधा निशाना

इससे पहले पार्टी के मुखपत्र सामना में शिवसेना ने बागी विधायकों पर निशाना साधा। मुखपत्र सामना में कहा गया ,” एकनाथ शिंदे गुट के विधायक आए, भगवा पगड़ी पहनकर बालासाहेब की प्रतिमा को प्रणाम करते हुए निष्ठां का नाटक किया। लेकिन सभी के चेहरे साफ गिरे हुए दिख रहे थे। उनका पाप उनकी अतंरात्मा को कचोट रहा था। ये भगवाधारी जुगनू भी नहीं थे। ‘कौन आया , रे कौंन आया , शिवसेना का बाघ आया।’ ऐसी गर्जना होती थी। वैसा कोई दृश्य देखने को नहीं मिला। “

Comments

Translate »