दोनों शहादतों में सिर्फ एक दिन का फर्क लेकिन मिलने वाले सम्मान में जमीन-आसमान का फर्क:इमरान प्रतापगढ़ी

मशहूर शायर और कांग्रेस नेता इमरान प्रतापगढ़ी ने शहीदों को मिलने वाले सम्मान को लेकर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से सवाल किया है। शहीदों के सम्मान देने के फर्क को लेकर उन्होंने एक ट्वीट किया है।

जम्मू कश्मीर में हुए शहीद

हाल ही में जम्मू कश्मीर में एक आतंकवादी विरोधी ऑपरेशन के दौरान भारतीय सेना का एक कर्नल,एक मेजर ,दो जवान और जेके पुलिस का एक सब-इंस्पेक्टर शहीद हो गए थे।

जिसके अगले ही दिन सीआरपीएफ के तीन जवान शहीद हो गए। देश के लिए अपने प्राणों को न्योछावर करने वाले शहीदों के सम्मान में देशभर में श्रद्धांजलि दी गई।

जिनके सम्मान में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आधिकारिक ट्विटर एकाउंट ‘सीएम ऑफिस यूपी’ से ट्वीट किए गए।

सीएम ऑफिस का पहला ट्वीट

मुख्यमंत्री ऑफिस के ट्विटर हैंडल से पहला ट्वीट 3 मई 2020 को शाम 6 बजकर 46 मिनट पर किया गया। जिसमें लिखा ,” सीएम श्री योगी आदित्यनाथ जी ने ग्राम परवाना, तहसील सियाना ,जनपद बुलंदशहर के निवासी शहीद कर्नल आशुतोष शर्मा के परिवार को 50 लाख रुपए का आर्थिक सहयोग देने तथा एक परिजन को नौकरी देने की घोषणा की है। कर्नल आशुतोष शर्मा की स्मृति में उनके पैतृक गांव में ‘गौरव द्वार’ का निर्माण होगा। ”

दूसरा ट्वीट

सीएम ऑफिस के ट्विटर हैंडल से दूसरा ट्वीट 5 मई 2020 को सुबह 10 बजकर 15 मिनट पर  किया गया। जिसमें लिखा ,” सीएम श्री योगी आदित्यनाथ जी ने जनपद गाजीपुर निवासी केंद्रीय रिजर्व पुलिस के जवान श्री अश्विनी यादव की शहादत नमन करते हुए उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि शोक की इस घड़ी में राज्य सरकार शहीद परिवार के साथ है ,सरकार द्वारा परिवार को हर संभव मदद प्रदान की जाएगी। ”

शायर इमरान ने सम्मान में बताया फर्क

शहीदों के सम्मान में फर्क को लेकर मशहूर शायर इमरान प्रतपगढ़ी ने एक ट्वीट किया है। उन्होंने सीएम ऑफिस के दोनों ट्वीट्स के स्क्रीनशॉप्ट शेयर करते हुए लिखा ,” दोनों शहादतों में सिर्फ एक दिन का फर्क है, लेकिन दोनों शहीदों को मिलने वाले सम्मान में ज़मीन आसमान का फर्क है। “

Comments

Translate »