लोन एप्लीकेशन रद्द होने पर नाराज शख्स ने फूंक डाला बैंक

CIBIL स्कोर कम होने की वजह से बैंक ने शख्स को लोन देने से मना कर दिया था। जिसके बाद नाराज शख्स ने बैंक को जला डाला।

बैंक से लोन ना मिलने से नाराज शख्स ने ऐसा कदम उठाया कि उसे जेल की हवा खानी पड़ रही है। कर्नाटक के हवेरी जिले के एक शख्स ने रविवार को एक बैंक में आग लगा दी। कहा जा रहा है कि आरोपी लोन एप्लीकेशन खारिज किए जाने से नाराज था। जिसके बाद उसने बैंक को आग लगा दी। आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने किया अरेस्ट

इस केस में पुलिस ने कहा कि उसके खिलाफ कागिनेली पुलिस थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 436 ,477 और 435 के तहत केस दर्ज किया गया है।

पुलिस के अनुसार आरोपी को लोन की जरूरत थी। जिसके लिए उसने बैंक में एप्लीकेशन दी थी। हालांकि बैंक ने उसकी लोन एप्लीकेशन को सिबिल स्कोर कम होने के कारण खारिज कर दिया। पुलिस के अनुसार दस्तावेजों की वेरिफिकेशन के बाद लोन की अर्जी को अस्वीकार कर दिया गया था। जिसके बाद आरोपी ने बैंक की खिड़की तोड़कर अंदर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। बैंक कर्मियों के अनुसार इस हादसे में करीब 1200000 रुपए का नुकसान हुआ है।

वसीम हजरतसब मुल्ला नाम है

आरोपी की पहचान रत्तीहल्ली कस्बे के रहने वाले वसीम हजरतसब मुल्ला के रूप में हुई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि कागिनेली पुलिस के अधिकार क्षेत्र के हेडुगोंडा गांव में स्थित केनरा बैंक की शाखा से ऋण प्राप्त करने के लिए आवेदन जमा किया था।  बैंक ने उसके एप्लीकेशन को अस्वीकार कर दिया था क्योंकि उसका सिबिल स्कोर कम था।

ऋण न मिलने से था नाराज

लोन आवेदन खारिज होने से नाराज मुल्ला शनिवार देर रात बैंक की शाखा में पहुंचा। उसने खिड़की तोड़ दी और बैंक के कार्यालय के अंदर पेट्रोल करा दिया। जिसके बाद उसने कार्यालय में आग लगा दी। राहगीरों ने इस घटना की सुचना पुलिस और अग्नि शमन केंद्र को दी। पुलिस ने मुल्ला को गिरफ्तार कर लिया है।

Comments

Translate »