असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के खिलाफ दायर किया मानहानी का केस

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने असम के सीएम हिमंत बिस्वा सरमा पर कोरोना महामारी की पहली लहर के दौरान  PPE किट घोटाले के आरोप लगाए थे। अब असम के सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने दिल्ली के उपमुख्यमंत्री के खिलाफ मानहानि का केस दर्ज किया है।

समाचार एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, असम के सीएम सरमा के वकील ने देवजीत सैकिया ने कहा कि मनीष सिसोदिया द्वारा लगाए गए सभी आरोप निराधार हैं। सिसोदिया के खिलाफ आपराधिक मानहानि का केस मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कामरूप रूरल में दायर किया गया है। वकील ने कहा कि शिकायतकर्ता द्वारा 22 जुलाई शुरूआती ब्यान के लिए सूचीबद्ध किया गया है।

यह मामला राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, असम को कोरोनावायरस की पहली लहर के दौरान जेसीबी इंडस्ट्रीज बाजार दरों से अधिक पर आपूर्ति की गई PPE कीटों का है। JCB इंडस्ट्रीज असम के सीएम हिमंत बिस्वा की पत्नी रिंकी भुयान सरमा की सह-स्वामित्व वाली कंपनी है।

वकील सैकिया ने कहा ,” दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने 4 जून को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान हिमंत बिस्वा सरमा पर भ्र्ष्टाचार के आरोप लगाए थे।  उन्होंने दावा किया था कि NHM ने 2020 में असम के स्वास्थ्यमंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान हिमंत बिस्वा ने अपनी पत्नी की सह-स्वामित्व वाली कंपनी से बढ़ी हुई दरों पर PPE किट खरीदे थे।

वहीँ, मनीष सिसोदिया ने प्रेस वार्ता के दौरान कहा था ,” असम के सीएम हिमंत बिस्वा ने 2020 में अपनी पत्नी और बेटे की बिजनेस पार्टनर कंपनियों से महंगी दरों पर पीपीई किट खरीदने का सरकारी आदेश दिया था। उस समय वह स्वास्थ्य मंत्री थे। एक चुना हुआ मुख्यमंत्री इस तरह की गतिविधियों में लिप्त है , क्या बीजेपी उन्हें जेल में डालेगी ?”

Comments

Translate »