जागो ग्राहक ! व्हाट्सएप प्लेटफार्म पर चल रही है बड़ी साजिश

बैंक की तरह व्हाट्सएप कंपनी अपने उपभोक्ताओं से किसी भी तरह के सत्यापन के लिए कोड अन्य जानकारी नहीं मांगती है। अगर आप से किसी भी तरह की जानकारी मांगी जा रही है तो ये स्कैम है।

फेसबुक के स्वामित्व वाली कंपनी व्हाट्सएप पर एक नया धोखधड़ी का मामला सामने आया है। जिसमें स्कैमर खुद को व्हाट्सएप की प्रौद्योगिकी टीम का अधिकारी बता कर धोखधड़ी कर रहे हैं। ये यूजर्स को व्हाट्सएप का वेरिफिकेशन कोड शेयर करने के लिए कहते हैं।

फर्जी एकाउंट को असली दिखाने के लिए व्हाट्सएप के लोगो का प्रोफाइल पिक्चर में इस्तेमाल किया जाता है। जबकि व्हाट्सएप टीमें उपभोक्ताओं के साथ किसी भी तरह का संवाद नहीं करती।

अपने नए फीचर या कंपनी से संबधित किसी भी जानकारी के लिए आधिकारिक सोशल मीडिया प्लेटफार्म का इस्तेमाल करती है। जिसमें ट्विटर या आधिकारिक ब्लॉग का इस्तेमाल किया जाता है। ये भी पढ़ें : व्हाट्सएप डार्क मोड को ऐसे करें अपने लैपटॉप पर एक्टिवेट

WABetaInfo ने इस नए धोखाधड़ी के मामले को उजागर किया है। जिसमें स्पैमर एक उपभोक्ता को मैसेज भेजता है और उसमें उससे वेरिफिकेशन के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले 6 अंकों के कोड की जानकारी मांगता है। ये भी पढ़ें : पृथ्वी की चुंबकीय शक्ति घटने से प्रभावित हो रहे हैं उपग्रह

आपको बता दें ,मोबाइल फोन में व्हाट्सएप इंसटाल करने के बाद एक्टिवेट करने के लिए 6 अंको का कोड एसएमएस के जरिए आता है। जिसका व्हाट्सएप खुद रीड कर लेता है या फिर इसको डालना होता है। इस प्रक्रिया के बाद व्हाट्सएप एक्टिवेट होता है। ये भी पढ़ें : WhatsApp के लिए डार्क मोड़ हुआ जारी,ऐसे करें सेटिंग

Comments

Translate »