गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम और दिवंगत अभिनेता ऋषि कपूर के बारे में बड़ा खुलासा

0
Big reveal about gangster Dawood Ibrahim and the late actor Rishi Kapoor
गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम और दिवंगत अभिनेता ऋषि कपूर के बारे में बड़ा खुलासा

मुंबई बम धमाकों के मास्टरमाइंड दाऊद इब्राहिम कासकर के सर पर भारत सरकार ने 25 मिलियन डॉलर का इनाम रखा हुआ है। जानिए ऐसे अपराधी से ऋषि कपूर का क्या रिश्ता रहा।

जिंदा है दाऊद इब्राहिम

दाऊद इब्राहिम के बारे में हर दिन टीवी चैनलों पर खबर आती रहती है कि वह मारा गया। जिसमें कभी किडनी फेल तो कभी कैंसर और कभी-कभी तो हमारे टीवी एंकर न्यूज़ रूम में बैठे बिठाए ही दाऊद को खल्लास कर देते हैं। लेकिन दाऊद इब्राहिम जिंदा है और पकिस्तान में है। उसकी पत्नी और बच्चे भी हैं।

नही डरते थे चिंटू

आपको जानकर हैरानी होगी कि जिस दाऊद के एक इशारे से पूरा बॉलीवुड जगत कांपता था। उस दाऊद से बॉलीवुड के चिंटू यानी स्वर्गीय ऋषि कपूर बिल्कुल भी खौफ नहीं खाते थे। दाऊद इब्राहिम कासकर और ऋषि कपूर का दुबई में दो बार टकराव हुआ। जिसके बारे में बॉलीवुड जगत के चर्चित फोटोग्राफर Viral Bhayani ने अपनी इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा है।

गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम और ऋषि कपूर के बारे में जिक्र करते हुए विरल भयानी ने इंस्टाग्राम पर लिखा ,” ऋषि कपूर किसी से नहीं डरते थे ,वे उस शख्स से भी नहीं डरते थे जिसको दुनिया का कोई आदमी न नहीं कह सकता।

खुल्लम खुल्ला किताब

ऋषि कपूर की किताब खुल्लम खुल्ला  (Khullam Khulla ) में इस बात का जिक्र किया गया है कि वह दाऊद से दुबई में दो बार मिले थे। खुल्लम खुल्ला किताब को बॉम्बे टाइम्स और डीएनए आफ्टर ऑवर की पूर्व एडिटर मीना के अय्यर ( Meena K Iyer ) ने लिखा था। जिसमें दाऊद और ऋषि कपूर के बारे में खुलासा किया गया है।

मीना के अय्यर की किताब खुल्लम खुल्ला के अनुसार ,ऋषि कपूर पहली बार दाऊद इब्राहिम से 1988 में दुबई में मिले थे। 

पहली मुलाकात

जब दाऊद भारतीय अधिकारियों से भाग रहा था। ऋषि कपूर एक “आशा भोसले-आरडी बर्मन रात कार्यक्रम” के लिए अपने दोस्त के साथ दुबई में थे और हवाई अड्डे पर दाऊद के नियमित आदमी द्वारा स्पॉट किए गए थे, जिनमें से कई “वीआईपी मूवमेंट” को ट्रैक करने के लिए हवाई अड्डों पर और उसके आसपास तैनात किए गए थे। दाउद के भाड़े का आदमी फिर ऋषि के पास गया और उसे एक फोन पेश करते हुए कहा, “दाऊद सा’ब बाट करंगे ( दाऊद साहब आपसे बात करना चाहेंगे)।” इसके बाद दाऊद ने ऋषि को अपने घर बुलाया।

जिसके बाद ऋषि कपूर ने अपने दोस्तों के साथ अपनी ‘ग्लैमिंग रोल्स रॉयस कार’ को दाऊद के घर की तरफ घुमाया और पहुंच गए। अपने घर पर, दाऊद ने ऋषि कपूर और उसके दोस्त को रिसीव किया, और उन्हें चाय और बिस्कुट की पेशकश की क्योंकि वह शराब नहीं पीता था।

चिंटू के साथ दाऊद (Gangster Dawood Ibrahim ) ने एक हत्या की भी बात की, जो उसने मुंबई की अदालत में सुनाई थी, एक घटना जो 1985 में सनी देओल अभिनीत ‘अर्जुन’ फिल्म के एक दृश्य का आधार बनी थी।

ऋषि कपूर ने दाऊद न कहा

ऋषि के दाऊद का घर छोड़ने से पहले, दाऊद ने उससे कहा, “अगर आपको किसी भी चीज़ की ज़रूरत है, कोई भी पैसा, कुछ भी, बस आप मुझे बेझिझक कहें ।” हालांकि, गैंगस्टर की इस बात के लिए अभिनेता ने मना कर दिया था।

दूसरी मुलाकात

दूसरी बार जब ऋषि की मुलाकात हुई, तब वह भी दुबई में था। यह वर्ष 1989 था और ऋषि अपनी पत्नी नीतू के साथ ‘लेबनान’ के एक स्टोर में जूते की खरीदारी कर रहे थे, जिसमें दाऊद भी मौजूद था, साथ में “आठ या दस अंगरक्षक” और “उसके हाथ में एक मोबाइल फोन था।” इस बार भी दाऊद ने ऋषि को कुछ खरीदने की पेशकश की लेकिन अभिनेता ने फिर मना करते हुए नहीं कहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here