CBI ने सोशल मीडिया पर जजों के खिलाफ अपमानजनक सामग्री पोस्ट करने वालों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की

0
CBI ने सोशल मीडिया पर जजों के खिलाफ अपमानजनक सामग्री पोस्ट करने वालों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की

सीबीआई ने साल 2020 में 11 नवंबर को 16 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया था। आंध्र प्रदेश के हाई कोर्ट के आदेश पर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो ने 12 एफआईआर अपने हाथ में ले ली थी।

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो ने सोशल मीडिया पर हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशों के खिलाफ कथित रूप से अपमानजनक सामग्री पोस्ट करने को लेकर लिंगारेड्डी राजशेखर रेड्डी नामक एक शख्स के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है। अधिकारियों ने जानकारी गुरुवार के दिन दी है। जांच एजेंसी ने पिछले साल 11 नवंबर को 16 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया था। आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के आदेश पर सीआईडी से 12 प्राथमिकी अपने हाथ में ले ली थी।

सीबीआई के प्रवक्ता आरसी जोशी ने कहा कि आरोप है कि आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों द्वारा कुछ फैसले सुनाए जाने के बाद प्रदेश में महत्वपूर्ण पदों पर आसीन लोगों ने जानबूझकर न्यायपालिका को निशाना बनाया। जजों के खिलाफ सोशल मीडिया में अपमानजनक पोस्ट किए। प्रवक्ता ने कहा कि केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो ने सोशल मीडिया मंच व इंटरनेट से आपत्तिजनक पोस्ट को हटवा दिया है। जांच एजेंसी ने आंध्र प्रदेश के गुंटूर में एक अदालत के सामने अपनी चार्जशीट दाखिल की है।

सोनू सूद फाउंडेशन में 15000 रूपए डोनेट करने वाली इस लड़की को सोनू सूद ने बताया भारत की सबसे अमीर लड़की,जानिए इसकी वजह 

आरसी जोशी ने कहा,’ जांच के वक्त उक्त आरोपी को 9 जुलाई 2021 को आंध्र प्रदेश के कुडप्पा में गिरफ्तार किया गया था। वह अभी भी न्यायिक हिरासत में है। कुडप्पा में आरोपी के आवास की भी तलाशी ली गई। जिसमें काफी अहम दस्तावेज बरामद किए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here