Chhichhore Movie Review: जो जीता वही सिकंदर और 3 इडियट्स फिल्मों का कॉकटेल है छिछोरे

0
Chhichhore Movie Review: 'Jo Jeeta Wohi Sikander' and '3 Idiots' are cocktail of films Chhichhore Movie
कॉलेज लाइफ फिल्म की बात की जाती है तो सबसे पहले हमारे दिमाग में कई फ़िल्में आती हैं।जैसे 90 के दशक में आई अजय देवगन की 'फूल और कांटे' 2009 में आई आमिर खान की

सुशांत सिंह राजपूत और श्रद्धा कपूर की फिल्म छिछोरे को देखते समय जो बात सबसे पहले दिमाग में आती है, वह है 1992 आई फिल्म जो जीता वही सिकंदर और साल 2009 में आई फिल्म 3 इडियट्स। छिछोरे मूवी इन्ही दो फिल्मों के कॉकटेल जैसी लगती है।

फिल्म छिछोरे की कहानी यारी-दोस्ती के साथ ही असफल न बनने की सोच से दूर रहने का संदेश देती है। इस फिल्म में कॉलेज के दिनों की कहानी दिखाई गई है। यारी-दोस्ती का खूब मजा भी है। होस्टल लाइफ और खेल में सबकुछ दाव पर लगाना है। इस तरह ‘दंगल ‘ फिल्म के निर्देशक ने हल्की-फुल्की फिल्म देने की कोशिश की है। फिल्म में कुछ नयापन नहीं है। स्टोरी को कॉपी पेस्ट किया जैसा लगता है।

फिल्म की कहानी सुशांत सिंह राजपूत और श्रद्धा कपूर के बेटे से शुरू होती है। जो अस्पताल में है और खुद को लूजर कहलाने के डर की वजह से उसका ये हाल हुआ है। फिर सुशांत सिंह राजपूत अपने बेटे को ठीक करने के लिए अपनी लूजर टीम की कहानी सुनाते हैं। सुशांत सिंह अपने दोस्त वरुण शर्मा ,तुषार पांडेय ,ताहिर राज भसीन और नवीन की कहानी सुनाते हैं। कहानी में दिखाया जाता है कि किस तरह सुशांत सिंह अपने कॉलेज में आते हैं। उनको लूजर के होस्टल में जगह मिलती है। शुरू में सुशांत सिंह होस्टल छोड़ना चाहते हैं लेकिन बाद में इन्ही लूजर्स के साथ उनका मन लग जाता है। फिर आता है चैंपियनशिप का मौका। जिसको हारने वाले लूजर कहलाते हैं। इस तरह फिल्म की कहानी आगे बढ़ती है।

छिछोरे फिल्म में वरुण शर्मा सेक्सा का किरदार निभा रहे डेरेक का किरदार निभा रहे ताहिर राज भसीन ने शानदार अभिनय किया है। फिल्म में वरुण शर्मा अपने जोक्स से खूब हसाने की कोशिश करते हैं। सुशांत सिंह राजपूत और श्रद्धा कपूर ने भी ज़बरदस्त अभिनय किया है।


फिल्म विश्लेषक तरण आदर्श ने छिछोरे फिल्म को ‘डिलाइटफ़ुल’ बताते हुए साढ़े तीन स्टार दिए हैं।


फिल्म विश्लेषक जोगिंदर टुटेजा ने छिछोरे फिल्म की तारीफ करते हुए लिखा ,” # छिछोरे एक दिल दहला देने वाली और प्यार से भरी फिल्म है, जिसमें जितना वादा किया गया है, उससे कहीं ज्यादा है। यह न केवल आपको अपने कॉलेज के दिनों को भरोसेमंद बना देगा, बल्कि आपको जीवन के बारे में अच्छा महसूस कराएगा। यदि आप 3 इडियट्स से प्यार करते हैं, तो आप छिछोरे के लिए भी गिरेंगे। ” जोगिंदर ने छिछोरे फिल्म को साढ़े चार स्टार दिए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here