चीन ने तीन दशक में पहली बार भारतीय चावल का आयत किया

0
समाचार एजेंसी रॉयटर्स से बात करने वाले अधिकारियों के अनुसार, यह कदम भारत द्वारा पेश की गई कीमतों में तेजी से छूट का भी परिणाम है। जबकि भारत चावल का दुनिया का सबसे बड़ा निर्यातक है और चीन सबसे बड़ा आयातक है।
चीन ने तीन दशक में पहली बार भारतीय चावल का आयत किया
समाचार एजेंसी रॉयटर्स से बात करने वाले अधिकारियों के अनुसार, यह कदम भारत द्वारा पेश की गई कीमतों में तेजी से छूट का भी परिणाम है। जबकि भारत चावल का दुनिया का सबसे बड़ा निर्यातक है और चीन सबसे बड़ा आयातक है।
चीन ने तीन दशक में पहली बार भारतीय चावल का आयत किया

भारतीय अधिकारियों ने कहा कि चीन ने कम से कम तीन दशकों में पहली बार भारतीय चावल का आयात शुरू किया है।

समाचार एजेंसी रॉयटर्स से बात करने वाले अधिकारियों के अनुसार, यह कदम भारत द्वारा पेश की गई कीमतों में तेजी से छूट का भी परिणाम है। जबकि भारत चावल का दुनिया का सबसे बड़ा निर्यातक है और चीन सबसे बड़ा आयातक है।

रॉयटर्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि बीजिंग सालाना लगभग चार मिलियन टन चावल का आयात करता है लेकिन गुणवत्ता के मुद्दों के कारण भारत से खरीदे जाने से बचता है। हालांकि, चीन ने इस साल फिर से कड़ी आपूर्ति के कारण आयात करना शुरू कर दिया है।

बता दें, भारत और चीन के बीच लदाख सीमा पर चल रहे ‘वास्तविक नियंत्रण रेखा’ विवाद को लेकर दोनों देशों के बीच  व्यापार पर असर पड़ रहा है।

इसी साल ,गलवान घाटी में चीनी सेना के साथ हुई झड़प में भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हो गए । जिसके बाद नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने चीन की काफी मोबाइल ऐप को भारत में बैन कर दिया है। बैन की गई ऐप में टिकटॉक और पबजी जैसी एप्स भी शामिल हैं।

चाइनीज एप बैन होने के बाद भारत में स्वदेशी एप बनाई जा रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here