दिल्ली के जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती के मौके पर शोभा यात्रा के दौरान दो गुटों के बीच झड़प

दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में शनिवार के दिन हनुमान जयंती के मौके पर दो गुटों के बीच झड़प हुई। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस के स्पेशल पुलिस कमिश्नर दीपेंद्र पाठक से बात कर मामले पर जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।

हनुमान जयंती के अवसर पर दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में शोभायात्रा निकालते समय दो गुटों के बीच हिंसा भड़क उठी। रिपोर्ट के अनुसार, दो गुटों में जमकर हंगामा हुआ। शोभायात्रा निकालते समय पत्थरबाजी हुई। इस घटना में पुलिस कर्मियों सहित कई लोग घायल हुए। पथराव में घायल हुए लोगों के बाबू जगजीवन राम अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मामले का संज्ञान लेते हुए स्पेशल पुलिस कमिश्नर ( लॉ एंड आर्डर ) दीपेंद्र पाठक से बात की है। गृहमंत्री ने हिंसा के मद्देनजर दिल्ली पुलिस को जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।

पुलिस कमिश्नर दीपेंद्र पाठक का ब्यान

जहांगीरपुरी हिंसा पर दिल्ली पुलिस के स्पेशल पुलिस कमिश्नर दीपेंद्र पाठक ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा कि यहां शोभायात्रा के दौरान एक झगड़ा हो गया था। पुलिस ने स्थिति को नियंत्रण में ले लिया है। शांति व्यवस्था बहाल की जा चुकी है। कुछ पुलिस कर्मी घायल हुए हैं। मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

गौतम गंभीर ने दुःख जताया

शोभायात्रा के दौरान हुई हिंसा पर पूर्वी दिल्ली से भारतीय जनता पार्टी के सांसद गौतम गंभीर ने दुःख जताया है। उन्होंने कहा ,” शोभायात्रा पर हुआ पथराव बहुत दुखदायी है और दिल्ली की सोच और संस्कृति के खिलाफ है। मैं सभी लोगों से शांति बनाये रखने की अपील करता हूं और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए। ”

सीएम अरविंद केरजरीवाल का ब्यान

वहीँ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार के दिन जहांगीरपुरी में हुई हिंसा पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा ,” मैं लोगों से कहना चाहता हूं कि उन्हें शांति व्यवस्था बनाकर रखनी चाहिए। क्योंकि बिना इसके देश नहीं चल सकता। एजेंसियां , पुलिस और दिल्ली में केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है। केंद्र सरकार दिल्ली में शांति व्यवस्था बनाए रखे। “

Comments

Translate »