भयंकर फायरिंग से दहला दिल्ली,हिस्ट्री शीटर सुरेंद्र मान को मारी 26 गोलियां,घटनास्थल पर हुई मौत

पुलिस सूत्रों के अनुसार हिस्ट्रीशीटर वीरेंद्र मान को 26 गोलियां लगी हैं। 12 गोलियां उसकी कार पर भी चलाई गई। गोलियां लगने के कारण वीरेंद्र मान की घटना स्थल पर ही मौत हो गई।

दिल्ली के नरेला लामपुर रोड पर आज सुबह रविवार के दिन 10.45 बजे 45 साल के वीरेंद्र मान उर्फ़ काला अपनी सफेद रंग की हुंडई कार जा रहा था। तभी रास्ते में घात लगाए बैठे करीब 10 बदमाशों ने उनकी कार पर भयंकर फायरिंग शुरू कर दी। कुछ की क्षण में वीरेंद्र का शरीर गोलियों से छलनी हो गया। पुलिस सूत्रों के अनुसार वीरेंद्र को 26 गोली लगी। एक दर्जन से भी ज्यादा गोलियां उनकी कार पर लगी। जब तक इस शूटआउट की खबर पुलिस को मिली तब तक सभी हमलावर फरार हो गए थे।

इस घटना के बाद वीरेंद्र के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया। बताया जा रहा है कि वीरेंद्र नरेला के खेड़ा खुर्द का रहने वाला था। वह साल 2013 में बहुजन समाज पार्टी की टिकट पर विधान सभा का चुनाव भी लड़ चूका था। फ़िलहाल वीरेंद्र आम आदमी पार्टी से जुड़ा हुआ था और आगामी विधान सभा चुनाव में टिकट लेने के प्रयास में लगा हुआ था।

पुलिस की फाइल के अनुसार वीरेंद्र नरेला थाने का घोषित अपराधी था। उस पर 14 आपराधिक मामले भी दर्ज थे। पुलिस प्राथमिक जांच के अनुसार वीरेंद्र की हत्या एक प्लाट के कब्जे को लेकर दुश्मनी के कारण हुई हो सकती है। दूसरी वजह गैंगवार भी बताया जा रहा है।

Comments

Translate »