त्रिपुरा: शादी में कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वालों पर सख्ती बरतने वाले डीएम शैलेश यादव का हुआ तबादला

अगरतला के एक शादी समारोह में कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने वाले डीएम शैलेश यादव का ट्रांसफर कर दिया गया है । राज्य सरकार ने डीएम को निलंबित किया था ।

पिछले दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब वायरल हुआ था । जिसमें त्रिपुरा के डीएम शैलेश यादव ने एक शादी समरोह में पहुंचकर वहां मौजूद लोगों पर सख्त कार्रवाई की थी । उन्होंने शादी में आए हुए लोगों को कोरोना प्रोटोकॉल का हवाला देते हुए वहां से भगा दिया था । इतना ही नहीं शैलेश यादव ने कोरोना कर्फ्यू पास को फाड़ते हुए शादी करवाने के लिए आए हुए पंडित को भी थप्पड़ मारा था ।

शैलेश यादव के खिलाफ बीजेपी के कई विधायकों ने कड़ी करवाई करने की मांग की थी ,बाद में उनको निलंबित कर दिया गया था । हालाँकि अब डीएम का तबादला कर दिया गया है । इसी कड़ी में बुधवार के दिन हाई कोर्ट ने उन पर लिए गए एक्शन की जानकारी मांगी । राज्य सरकार ने अदालत को बताया कि शैलेश यादव को उनके पद से मुक्त कर दिया गया है और वह 12 दिनों की छुट्टी पर हैं ।

अदालत ने राज्य सरकार से पूछा की अभी तक शैलेश यादव को पश्चिमी त्रिपुरा में ही क्यों रोका हुआ है ? जिसके बाद अदालत ने आधे घंटे में शैलेश यादव के ट्रांसफर की जानकारी मांगी । अब सरकार ने यादव को साउथ त्रिपुरा के बेलोनिया जिला में ट्रांसफर कर दिया है ।

हालांकि अभी तक उन्हें कोई पद नहीं दिया गया है । राज्य सरकार ने 26 अप्रैल को अगरतला के पास हुई घटना के बाद शैलेश यादव के खिलाफ जांच का आदेश दिया था । अदालत ने सरकार से यह भी पूछा की उस दिन कितनी महिलाओं को गिरफ्तार किया गया था ।

Comments

Translate »