JJP की टिकट पर सीएम खट्टर के खिलाफ करनाल विधान सभा से चुनाव लड़ेंगे BSF के पूर्व जवान तेज बहादुर यादव

0
Former BSF jawan Tej Bahadur Yadav to contest assembly elections from Karnal against CM Khattar on JJP ticket
तेज बहादुर यादव को बीएसएफ के जवानों परोसे जाने वाले खराब खाने का वीडियो फेसबुक पर पोस्ट करने के बाद साल 2017 में बर्ख़ास्त कर दिया था। उन्होंने लोक सभा चुनाव 2019 में वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र म

तेज बहादुर यादव को बीएसएफ के जवानों परोसे जाने वाले खराब खाने का वीडियो फेसबुक पर पोस्ट करने के बाद साल 2017 में बर्ख़ास्त कर दिया था। उन्होंने लोक सभा चुनाव 2019 में वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ समाजवादी पार्टी की टिकट पर नामांकन भरा था।

जननायक जनता पार्टी

बीएसएफ के पूर्व जवान तेज बहादुर यादव ने रविवार के दिन दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की है। JJP में शामिल होने के बाद तेज बहादुर यादव ने कहा कि आगामी विधान सभा चुनाव में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के खिलाफ करनाल विधान सभा से चुनाव लड़ेंगे।

तेज बहादुर यादव

आपको बता दें, तेज बहादुर यादव ने बीएसएफ ( सीमा सुरक्षा बल) के जवानों को ‘लो क्वालिटी’ का खाना परोसे जाने की शिकायत की थी। उन्होंने खाने का वीडियो फेसबुक पर शेयर किया था। जिसके बाद उन्हें साल 2017 में बर्ख़ास्त कर दिया था। पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे पूर्व बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव का नामांकन रद्द

महेंद्रगढ़

रविवार के दिन हरियाणा के महेंद्रगढ़ के निवासी तेज बहादुर यादव न दिल्ली में दुष्यंत चौटाला की मौजूदगी में ‘जजपा’ में शामिल हुए। पार्टी में शामिल होने के बाद तेज बहादुर यादव ने कहा ,” मैं JJP और दुष्यंत चौटाला का आभारी हूं कि उन्होंने मुझे करनाल से मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के खिलाफ चुनाव लड़ने के लिए नामित किया है। ”

तज बहादुर यादव ने कहा,” हरियाणा में बेरोजगारी एक बड़ी समस्या है। मैं हमेशा भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ता रहा हूं। ”

गौरतलब है , इस साल हुए लोक सभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ तेज बहादुर यादव को अपनी टिकट पर उम्मीदवार बनाया था। लेकिन चुनाव आयोग ने उनके नामांकन को यह कहते हुए रद्द कर दिया था कि उन्होंने मांगी गई जानकारी समय पर नहीं दी है। BSF से बर्ख़ास्त जवान तेज बहादुर यादव ने चुनाव आयोग द्वारा नामांकन रद्द करने वाले फैसले को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती

आपको बता दें , ‘जननायक जनता पार्टी’ ने 13 सितंबर को सात उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की थी। जिसके बाद 29 सितंबर को पार्टी ने 15 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी कर दी है। हरियाणा में 90 सदस्यीय विधान सभा के लिए 21 अक्टूबर को चुनाव होने है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here