कोरोनावायरस की जंग में केंद्र सरकार ग़रीबों और जरूरतमंदों को देगी 1.70 लाख करोड़ रुपए की सहायता

देश में कोरोनावायरस के चलते वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने ग़रीबों और जरूरतमंदों को 1.70 लाख करोड़ रुपए देने की घोषणा की है।

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा ,” पीएम नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन का फैसला लिया है। हम नहीं चाहते कि कोई भूखा या तंगी में रहे। सरकार ग़रीबों तक पैसा पहुंचाएगी। सरकार एक लाख 70 करोड़ रुपए का राहत पैकेज देगी। ऐसे मौके पर मज़दूर और ग़रीब को राहत जरूरी है। हम प्रधानमंत्री ग़रीब कल्याण पैकेज ले आए हैं। संकट के मौके पर गरीबों पर ज्यादा असर है। स्वास्थ्य कर्मियों को 50 लाख रुपए का बीमा कवर दिया जाएगा। अन्न और धन से ग़रीबों की मदद की जाएगी। ”

निर्मला सीतारमण ने कहा ,पीएम किसान योजना के तहत हर साल किसानों को 6000 रुपए दिए जाते हैं। अप्रैल के पहले हफ्ते में 2000 रुपए की किस्त किसानों के खाते में डाल दी जाएगी। जिससे 8 करोड़ से ज्यादा किसानों को लाभ मिलेगा। मज़दूरों की मनरेगा (MNREGA) के तहत मजदूरी बढ़ाकर 182 रुपए से 202 रुपए कर दी गई है। 20 करोड़ महिला जन धन खातों में अगले तीन महीने तक हर महीने 500 रुपए डाले जाएंगे। ग़रीब ,वृद्ध ,दिव्यांग और विधवा को मदद दी जाएगी। उज्जवला (Ujjwala) योजना के तहत अगले तीन महीने तक मुफ्त सिलेंडर दिया जाएगा। ”

वित्तमंत्री ने आगे कहा ,” लोन की राशि बढ़ा दी गई है। पहले 10 लाख रुपए तक का लोन दिया जाता था ,अब 20 लाख का दिया जाएगा। ये लोन बिना किसी गारंटी के मिलेगा। कम वेतन वालो का पीएफ सरकार देगी। पीएम ग़रीब कल्याण अन्न योजना के तहत 80 करोड़ गरीबों के भोजन की व्यवस्था की जाएगी। कोई ग़रीब भूखा न रहे इसके लिए अगले तीन महीने तक पांच किलो गेहूँ या चावल दिया जाएगा। इसके अलावा एक किलो दाल भी मुफ्त दी जाएगी।

Comments

Translate »