Health Tips: जानिए हार्ट अटैक का खतरा बढ़ने के कारण और बचाव के तरीके

दिल का दौरा पड़ना एक खतरनाक बीमारी है। समय रहते अगर आप सावधानी नहीं बरतेंगे तो ये आपके लिए जानलेवा साबित हो सकती है। जरूरी है ,आप इसके लक्षण नजर आते ही सावधान हो जाएं और तुरंत डॉक्टर की सलाह लें।

ये हैं हार्ट अटैक के कारण

हार्ट अटैक एक जानलेवा बीमारी है। इसके पीछे आपकी खानपान और रहन-सहन की शैली सहित और भी कई कारण होते हैं। दिल का दौरा पड़ने के कई कारण और लक्षण होते हैं। यहां ,जानिए हार्ट अटैक के लक्षण और कारण।

  1. शारीरिक कसरत न करना और तनाव में रहना भी हार्ट अटैक के खतरे को बढ़ाता है। इसके अलावा यह जेनेटिक भी हो सकता है ,आपके दादा-दादी ,माता-पिता में से किसी को हार्ट अटैक की बीमारी होती है तो ये आपको विरासत में मिलती है।
  2. मास मछली और फ़ास्ट फ़ूड अधिक खाने से भी हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। इनमें काफी मात्रा में फैट होता है जो शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ाता है जिसका परिणाम हार्ट अटैक के रूप मिलता है।
  3. शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से हार्ट अटैक की बीमारी होती है। कोलेस्ट्रॉल से धमनियां पतला हो जाती हैं और रक्त दिल तक अच्छी तरह नहीं पहुंच पाता है।
  4. मोटापा बढ़ना भी हार्ट अटैक को न्योता देता है। वजन बढ़ने के कारण कई बार कोलेस्ट्रॉल और रक्त चाप बढ़ जाता है। इसका असर आपके दिल पर पड़ता है और हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए अपने वजन पर कंट्रोल रखें।
  5. शराब सिगरेट और नशीले पदार्थों का इस्तेमाल करने से भी हार्ट अटैक का खतरा अधिक बढ़ता है।

खान-पान में बदलाव करें

इस बीमारी से बचने के लिए अपने खान-पान को दुरुस्त रखें। गरिष्ठ भोजन का सेवन न करें। हरी सब्जियां और फलों का सेवन करें। तामसिक भोजन न करें। नियमित व्यायाम करें। सुबह की सैर को अपनी रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा बना लें। हार्ट अटैक की बीमारी के लक्षण बढ़ जाने पर डॉक्टर की सलाह लें।

Comments

Translate »