अंतरराष्ट्रीय वन दिवस 2021 के अवसर पर जाने कैसे शुरू हुआ था यह दिन

0
इस दिन की शुरुआत अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस 2021 के अवसर पर कैसे हुई
फोटोः अंतराष्ट्रीय वन दिवस 2021

संयुक्त राष्ट्र परिषद के अनुसार 60,000 से अधिक प्रजातियों के साथ यह जंगल विश्व के 80 प्रतिशत विविध प्रकार के जीवो के लिए एक घर है । लगभग 1.6 बिलियन लोग भोजन, आश्रय , ऊर्जा दवाओं और इनकम के लिए सीधे तौर पर वनों पर निर्भर हैं ।

अंतरराष्ट्रीय वन दिवस 2021

आज पूरे विश्व में इंटरनेशनल फॉरेस्ट डे मनाया जा रहा है । थोड़ा सोच कर देखिए अगर जंगल ना होते तो हम सांस कैसे लेते । वही इंधन के रूप में मनुष्य जंगलों पर निर्भर है । स्टेट आफ फॉरेस्ट रिपोर्ट 2019 के अनुसार भारत में ग्रामीण आबादी का एक महत्वपूर्ण हिस्सा इंधन चाहे छोटे लकड़ी बांस और गैर लकड़ी वन उत्पादों की जरूरतों को पूरा करने के लिए जंगलों पर निर्भर है । इसके साथ ही वन जंगली जानवरों के लिए एक घर है ।

क्यों मनाया जाता है विश्व वन दिवस ?

जानकारों के अनुसार जंगल जलवायु के लिए एक स्थिर और ग्रह पर पर्यावरण में संतुलन बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं । सभी प्रकार के वनों के महत्व के बारे में जिज्ञासा बढ़ाने के प्रयास में 21 मार्च को अंतरराष्ट्रीय वन दिवस मनाया जाता है ।आइए आप को बताते हैं की जंगलों की रक्षा के लिए क्यों काम करना चाहिए ।

प्रत्येक अंतरराष्ट्रीय वन दिवस के अवसर पर सभी देशों में जंगलों , वृक्षों जैसे वृक्षारोपण अभियानों से संबंधित गतिविधियों को आयोजित करने के लिए स्थानीय राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रयासों को प्रोत्साहित किया जाता है ।हर वर्ष दुनिया हमारे जीवन के में पेड़ों के योगदान का जश्न मनाती है।

कब हुई थी अंतराष्ट्रीय वन दिवस की शुरुआत

आपको बता दें हर साल इस दिन को हमारे जीवन में वनों के महत्व को समझाने के लिए मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने वर्ष 2012 में 21 मार्च के दिन को अंतरराष्ट्रीय वन दिवस घोषित किया था । यह दिन सभी प्रकार के वनों के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाता है । अंतरराष्ट्रीय वन दिवस के लिए एक थीम हर साल अलग होती है । इस साल की थीम ‘फॉरेस्ट रीस्टोरेशन:ए पाथ टू रिकवरी एंड वेल बीइंग’ है।

संयुक्त राष्ट्र के इस साल की थीम ‘यू एन डिकेड ऑन इकोसिस्टम रीस्टोरेशन 2021 2030 पर आधारित है । जिसका उद्देश्य दुनिया के इकोसिस्टम को बचाना है।

यू एन ओ में कहा गया है कि हर साल दुनिया के लगभग 10 मिलियन हेक्टेयर वन कम होते जा रहे हैं । जो कि वायु परिवर्तन का मुख्य कारण है । संयुक्त राष्ट्र के अनुसार हम जिन दवाइयों का इस्तेमाल करते हैं उनमें 25 फ़ीसदी इन्हीं वनों से मिलती है । न्यूयॉर्क , टोकियो , बार्सिलोना और बोगोटा समेत कई बड़े शहरों का एक तिहाई हिस्सा पीने के पानी को वनों से सुरक्षित करता है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here