यदि वैक्सीनेशन अभियान में तेजी नहीं लाइ गई तो 6 से 8 महीने में आ सकती है कोरोना की तीसरी लहर, गणितीय मॉडल से जुड़े अधिकारी ने दी चेतावनी 

0
यदि वैक्सीनेशन अभियान में तेजी नहीं लाइ गई तो 6 से 8 महीने में आ सकती है कोरोना की तीसरी लहर, गणितीय मॉडल से जुड़े अधिकारी ने दी चेतावनी
प्रतीक चित्र

SUTRA एक गणितीय मॉडल है, जिसका इस्तेमाल कोरोना मामलों में वृद्धि का अनुमान लगाने में किया जाता है। इस मॉडल से जुड़े अधिकारियो ने अनुमान लगाया है कि जुलाई तक कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर समाप्त हो जायगी।

गणितीय मॉडल का इस्तेमाल करके रिसर्चर ने ये अनुमान लगाया है कि मई के अंत में 1,50,000 और जून के अंत में 20,000 तक कोरोना के केस आने के संभावना है। इस प्रकार जुलाई में कोरोना की दूसरी लहर खत्म होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

इसी गणितीय मॉडल से जुड़े IIT हैदराबाद के प्रोफेसर विद्यासागर ने कहा है कि अगर देश में टीकाकरण अभियान में तेजी नहीं लाइ गई तो जल्द तीसरी लहर का सामना करना पड़ सकता है।

प्रोफेसर विद्यसागर का कहना है कि “यदि शरीर में एंटीबॉडी खत्म हो जाती है तो इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने का खतरा बढ़ जाता है” तो जल्द से जल्द लोगो का टीकाकरण करना चाहिए और कोविड नियमो का सख्ती से पालन करना चाहिए यदि ऐसा नहीं किया गया तो अगले 6 से 8 महीने में कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है ।

ये भी पढ़ें,100 रूपये में कोरोनावायरस का टेस्ट,15 मिनट में रिपोर्ट, देश में आ गई सबसे सस्ती टेस्टिंग किट

इसी गणितीय मॉडल से जुड़े प्रोफेसर अग्रवाल ने कहा है की “भारत में कोरोना की तीसरी लहर स्थानीय स्तर पर ज्यादा फैलेगी लेकिन ज्यादा लोग इससे प्रभावित नहीं होंगे क्योंकि तब तक उन्हें वैक्सीन लग चुकी होगी।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here