मोदी सरकर की फर्जी योजना चलाने वाला आईआईटी का छात्र गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की साइबर ब्रांच ने मोदी सरकार के नाम पर फर्जी योजना चलाने वाले आईआईटी के छात्र को किया गिरफ्तार। फर्जी वेबसाइट बनाकर कमाना चाहता था पैसे।

दिल्ली पुलिस की ‘साइबर सेल’ ने मोदी सरकार की 2 .0 फर्जी योजना चलाने वाले आईआईटियन को गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान ‘राकेश जांगिड़’ के रूप में हुई है। राकेश राजस्थान के नागौर जिले का रहने वाला है। राकेश को नागौर जिले से ही दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी राकेश जांगिड़ ने ‘आईआईटी कानपूर’ से पोस्ट-ग्रेजुएशन किया है।

लोक सभा चुनाव 2019 के बाद दोबारा मोदी सरकार बनते ही आरोपी राकेश ने एक ‘वेबसाइट’ बनाई। राकेश ने अपनी वेबसाइट के जरिए लोगों को फ्री लैपटॉप और सोलर पैनल देने के नाम पर भर्मित किया। वेबसाइट पर आवेदन करने की अंतिम तारीख 5 जून बताई थी।

राकेश ने अपनी वेबसाइट के जरिए लोगों को बताया की मोदी सरकार दोबारा बनने की खुशी में ‘मेक इन इंडिया’ के तहत 2 करोड़ युवाओं को मुफ्त लैपटॉप देने का ऐलान किया गया है। राकेश ने अपनी वेबसाइट पर मुफ्त में सोलर पैनल लगवाने का भी ऐलान किया। राकेश ने अपनी वेबसाइट पर लिखा कि इस स्कीम के लिए आवेदन करने की अंतिम तारीख 5 जून 2019 है। आवेदन जल्दी करें और इस मैसेज को अपने दोस्तों और जानने वालों के साथ भी शेयर करें।

एक रिपोर्ट के अनुसार राकेश जांगिड़ की वेबसाइट पर दो दिन में 15 लाख लोगों ने आवेदन किया था। राकेश ने इस फर्जी वेबसाइट को ट्रैफिक बढ़ाकर पैसा कमाने के लिए बनाया था।

Comments

Translate »