जानिए, किन लोगों को करवाना चाहिए कोरोना वायरस का टेस्ट

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार भारत में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 867 है। इस वायरस के कारण देश में 25 लोगों की मौत हो चुकी है।

कोरोना वायरस  के कहर को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 तारीख को देश में 21 दिन के लॉकडाउन  (LockDown) का ऐलान किया था। उन्होंने देश नाम संबोधन में देशवासियों से हाथ जोड़कर लॉकडाउन का पालन करने की अपील की थी।

जिसके बाद देश में सड़क, रेल और हवाई यातायात बंद होने के साथ-साथ शिक्षण संस्थानों,जिम ,स्पा सेंटर, होटलों सहित कई सार्वजनिक संस्थानों को बंद कर दिया गया। ऐसे में लोगों के बीच एक भय का सा माहौल बना हुआ है। मामूली खांसी जुकाम होने पर भी लोग खुद को कोरोना वायरस से संक्रमित समझने लगते हैं और टेस्ट करवाने के बारे में सोचते हैं।

इस वायरस का टेस्ट करवाना सभी के लिए जरूरी नहीं है। कोरोना वायरस का टेस्ट किन लोगों के लिए जरूरी है ,इसके बारे में स्वास्थ्य मंत्रालय ने सुचना जारी की है। आइए जानते हैं,किन लोगों को ये टेस्ट करवाना चाहिए। ये भी पढ़ें: जानिए क्या है कोरोना का मतलब और ये किस परिवार से है

ज्यादातर किन में पाया जाता है संक्रमण

ये वायरस उन लोगों में पाया जाता है ,जो Covid -19 से प्रभावित देशों की यात्रा से आए हो या उनके संपर्क में आए हों।

किन लोगों को करवाना चाहिए टेस्ट 
  • ये टेस्ट उन सभी लोगों को करवाना चाहिए जो पिछले 14 दिनों में किसी विदेश यात्रा से आए हों।
  • जो किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए हों।
  • स्वास्थ्य कर्मियों के लिए ये परीक्षण जरूरी है।
  • जो संक्रमित व्यक्ति के परिवार से हों उनके लिए ये टेस्ट जरूरी है।

Comments

Translate »