क्लब हाउस ऑडियो चैट लीक होने पर रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने बीजेपी को ललकारा

0
क्लब हाउस ऑडियो चैट लीक होने पर रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने बीजेपी को ललकारा
फोटोः प्रशांत किशोर

शनिवार सुबह बीजेपी के सोशल मीडिया हेड अमित मालवीय ने एक ऑडियो क्लिप अपने ट्विटर अकाउंट पर साझा किया। जिसमें चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर कह रहे हैं कि प्रधानमंत्री मोदी बंगाल में उतने ही लोकप्रिय है जितनी सीएम ममता बनर्जी है।

वेस्ट बंगाल में सीएम ममता बनर्जी के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर की एक ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर साझा की गई। जिसमें वह कह रहे हैं कि प्रधानमंत्री मोदी बंगाल में उतने ही लोकप्रिय है जितने कि यहां ममता बनर्जी हैं।

क्लब हाउस में हुई चर्चा का एक हिस्सा बीजेपी के सोशल मीडिया प्रमुख अमित मालवीय ने शनिवार की सुबह अपने ट्विटर पर शेयर किया। यह ऑडियो क्लिप तब सामने आया जब राज्य में चौथे चरण का मतदान चल रहा है। लीक  ऑडियो को लेकर बीजेपी नेताओं की तरफ से ट्विटर पर विजई मुद्रा में ट्वीट किए जा रहे हैं।

शुक्रवार शाम को पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए ऐसा लग रहा है कि चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ध्रुवीकरण की बात करते नजर आ रहे हैं। वह कह रहे हैं कि ध्रुवीकरण ममता सरकार के खिलाफ गुस्सा और दलित वो तो तीनों वजह से इस चुनाव में बीजेपी को फायदा मिलता नजर आ रहा है। अमित मालवीय ने अपने ट्वीट में लिखा कि तृणमूल कांग्रेस का चुनाव गया। जिसकी एक क्लिप सोशल मीडिया को खूब वायरल हो रही है।

हालांकि अमित मालवीय के ट्वीट के बाद प्रशांत किशोर ने बीजेपी को ललकार ते हुए कहा कि अगर हिम्मत है तो पूरी ऑडियो चैट दिखाओ। प्रशांत किशोर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी उनके इस चैट को बहुत गंभीरता से ले रही है। अगर उनमें हिम्मत है तो पूरी चैट को सार्वजनिक करें। प्रशांत किशोर ने कहा कि मुझे खुशी है कि बीजेपी के लोग मेरे चैट को अपने नेताओं की बातों से ज्यादा गंभीरता से ले रहे हैं। लेकिन मैं बताना चाहता हूं कि वह बातचीत के कुछ चुनिंदा हिस्से की जगह पूरी बातचीत को सार्वजनिक करें।

ऑडियो क्लिप में प्रशांत किशोर कह रहे हैं अगर लहर है तो मोदी के नाम पर वोट है। हिंदू के नाम पर वोट है। दलित के नाम पर वोट है। हिंदी भाषी है। यह फैक्टर है तो शुभेंदु गए क्योंकि प्रशांत किशोर आ गया वाला मसला ही नहीं है। पीएम मोदी यहां पॉपुलर हैं। हिंदी भाषी लोगों के लिए एक करोड़ से ज्यादा वोट है। 27 फीसदी दलित वोट है , वह बीजेपी के साथ खड़े हैं और धुर्वीकरण तो हो ही रहा है।

प्रेस वार्ता के दौरान एक पत्रकार ने पूछा  मटुआ समुदाय किस को वोट देगा, तो उनका जवाब आया कि मटुआ लोग ज्यादातर बीजेपी को वोट देंगे। उन्होंने कहा कि उनकी एकता उतनी ज्यादा नहीं दिखेगी जितनी लोकसभा में दिखी थी। लेकिन उनका ज्यादातर वोट बीजेपी को जाएगा 75 बीजेपी को तो 25 फीसदी को अनुपात रहेगा।

प्रशांत किशोर ने कहा कि ऐसा नहीं है कि भारतीय जनता पार्टी का बंगाल में काडर नहीं है। यहां बीजेपी का ग्राउंड पर काडर है। हो सकता है कि बहुत तृणमूल से आए हैं। लेकिन वह समर्पण के साथ बीजेपी के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने यह भी बताया कि तृणमूल कांग्रेस के अपने खुद के पोलिंग सर्वे में बीजेपी की सरकार बनती हुई दिख रही है। यह भी कह रहे हैं कि 50 से 55 प्रतिशत हिंदू बीजेपी को वोट करेंगे ।

प्रशांत किशोर के दूसरे क्लिप में कहते हुए नजर आ रहे हैं कि पश्चिम बंगाल में ममता सरकार के खिलाफ गुस्सा है। लेकिन केंद्र के खिलाफ नहीं है। पत्रकारों ने जब उनसे पूछा कि मोदी बंगाल में क्यों लोकप्रिय है और आर्थिक संकट के बावजूद उनकी सरकार के खिलाफ गुस्सा क्यों नहीं है। इस पर उन्होंने कहा कि देश में मोदी का कल्ट है। यहां तक कि टीएमसी के सर्वे में मोदी को भी उतने ही वोट मिले हैं जितनी ममता बनर्जी को मिले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here