दिल्ली में अब वायु प्रदूषण के स्त्रोत रियल टाइम में हो सकेंगे ट्रैक, दिल्ली कैबिनेट ने RTSA स्टडी के प्रस्ताव को दी मंजूरी 

दिल्ली में अब वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए “रियल टाइम अपोर्शनमेंट स्टडी” को मंजूरी मिल गयी है। दिल्ली में अब प्रदूषण के स्त्रोतों को रियल टाइम में ट्रैक किया जा सकेगा।

वायु प्रदूषण की समस्या से जूझती दिल्ली में अब वायु प्रदूषण को रोकने के लिए स्टडी की जाएगी। दिल्ली कैबिनेट ने शुक्रवार को “रियल टाइम अपोर्शनमेंट स्टडी”(RTSA) के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इस स्टडी में प्रदूषण के स्त्रोतों को रियल टाइम पर ट्रैक किया जा सकेगा।

दिल्ली सरकार के अनुसार यह इस तरह का पहला अध्धयन है,जो वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने में मदद करेगा और प्रदूषण के कारको को पहचानने में मदद करेगा।

वायु प्रदूषण की समस्या के समाधान में काफी मदद मिलेगी-गोपाल राय

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय के अनुसार इस अध्ययन से दिल्ली में प्रदूषण की समस्या के समाधान में काफी मदद मिलेगी। गोपाल राय ने आगे कहा कि दिल्ली सरकार रियल टाइम पर वायु प्रदूषण के स्त्रोतों का पता लगाने और उनका निगरानी करने वाली पहली सरकार होगी।

 ये टीम करेगी दिल्ली में RTSA स्टडी

आईआईटी-कानपूर, आईआईटी-दिल्ली, एनर्जी एंड रिसोर्सेज इंसीट्यूट(टेरी), आईआईएसईआर मोहाली की एक टीम दिल्ली में RTSA की  स्टडी करेगी। गोपाल राय ने बताया कि कैबिनेट से इसकी मंजूरी मिल गई है, और अब इस परियोजना पर जोर-शोर से काम किया जायेगा।

प्रदूषण के स्त्रोतों को रोकने के लिए सरकार उठाएगी ठोस कदम

“रियल टाइम अपोर्शनमेंट स्टडी” दिल्ली में वाहनों का, धूल, बायोमास, पराली जलाने और उद्योगों से निकलने वाले धुंए जैसे प्रदूषण स्त्रोतों का वास्तविक समय पर पड़ने वाले प्रभाव को समझने में मदद करेगी। इस स्टडी से मिलने वाले परिणामो के आधार पर सरकार वायु प्रदूषण को रोकने के लिए ठोस कदम उठाएगी।

Comments

Translate »