सत्ता में आते ही दो सप्ताह में लागू होगी पुरानी पेंशन योजना:केजरीवाल

दिल्ली सीएम अरविंद केरीवाल ने हरियाणा पेंशन बहाली संघर्ष समीति को दिया समर्थन

बीजेपी की खट्टर सरकार में चार साल से सडक़ों पर हैं कर्मचारी:केजरीवाल

जिस सरकार ने कर्मचारियों को तंग किया वह कभी सत्ता में नहीं आई:सीएम केजरीवाल

पंचकूला: दिल्ली के मुख्यमंत्री एवं आम आदमी पार्टी के सुप्रीमों अरविंद केजरीवाल ने ऐलान किया है कि हरियाणा में आम आदमी पार्टी की सरकार के सत्ता में आते ही पंद्रह दिनों के भीतर कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना को लागू कर दिया जाएगा। अरविंद केजरीवाल सोमवार को पंचकूला के शालिमार ग्रांउड में हरियाणा पेंशन बहाली संघर्ष समीति द्वारा किए जा रहे आंदोलन को समर्थन देने पहुंचे थे। उन्होंने कहा,पेंशन बहाली की मांग कर रहे कर्मचारी नेताओं से विचार विमर्श करके उनके आंदोलन को सही करार देते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी के उनके संघर्ष में पूरी तरह से उनके साथ है।

इस मौके पर कर्मचारियों से रूबरू होते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हरियाणा में पिछले चार वर्ष से जब से खट्टर सरकार ने सत्ता संभाली है तब से कर्मचारी अपने दफ्तरों में कम और सडक़ों पर अधिक रहे हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा में कभी गैस्ट टीचरों के धरने तो कभी रोडवेज की हड़ताल और आशा वर्करों के आंदोलन अखबारों की सुर्खियां बने हैं। सरकारी कर्मचारियों की अपनी जायज मांगे पूरी करवाने और अपने अधिकार हासिल करने के लिए धरने-प्रदर्शनों का सहारा लेना पड़ रहा है।

केजरीवाल ने कहा कि हरियाणा समेत पूरे देश का राजनीतिक इतिहास इस बात का गवाह है कि जिस भी सरकार ने कर्मचारियों को परेशान किया है और उनके मांगों को पूरा नहीं किया वह कभी सत्ता में दोबारा नहीं आई।जिस सरकार में कर्मचारी दुखी होंगे वह सरकार कभी नहीं चल सकती है।

सत्ता में आते ही दो सप्ताह में लागू होगी पुरानी पेंशन योजना: @ArvindKejriwal

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने हरियाणा पेंशन बहाली संघर्ष समीति को दिया समर्थन
खट्टर सरकार में चार साल से सडक़ों पर हैं कर्मचारी,जिस सरकार ने कर्मचारियों को तंग किया वह कभी सत्ता में नहीं आई।@NaveenJaihind pic.twitter.com/I7yML5vICZ— AAP Haryana (@AAPHaryana) January 7, 2019

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवालने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को कर्मचारी विरोधी मुख्यमंत्री करार देते हुए कर्मचारियों से आहवान किया कि वह पूरी एकजुटता के साथ आम आदमी पार्टी का समर्थन करें। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद ने कहा कि हरियाणा में जिस दिन आम आदमी पार्टी की सरकार सत्ता में आएगी तो पंद्रह दिनों के भीतर कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन योजना को लागू कर दिया जाएगा।उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार ने दिल्ली में भी कर्मचारियों की पेंशन योजना को लागू किया है।जिसे केंद्र सरकार ने अटका रखा था।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र व राज्य की भाजपा सरकार को कर्मचारी विरोधी करार देते हुए कहा कि भाजपा ने दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार की राह में रोडे अटकाने के अलावा दूसरा कोई काम नहीं किया है। केजरीवाल ने कहा आम आदमी पार्टी की सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान कर्मचारियों के हित में कई फैसले लिए हैं, लेकिन भाजपा ने उन्हें अटकाने का काम किया है।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में कर्मचारियों का न्यूनतम वेतन बढ़ाने का मामला सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा बहुत जल्द कर्मचारियों के हित में फैसला दिए जाने की उम्मीद है। यह फैसला आते ही कर्मचारियों का न्यूनतम वेतन बढ़ा दिया जाएगा।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के स्कूलों व अस्पतालों के कायाकल्प का श्रेय अध्यापकों, चिकित्सकों व कर्मचारियों को देते हुए कहा कि दिल्ली में जो लोग कांग्रेस की सरकार में काम करते थे वही आज कर रहे हैं। लेकिन पहले की सरकारों ने कर्मचारियों के हित में फैसले लेने की बजाए उन्हें परेशान करने का काम किया है।

केजरीवाल ने आगे बोलते हुए कहा, दिल्ली के सरकारी स्कूलों और अस्पतालों की चर्चा आज पूरे देश में हो रही है।जिसका पूरा श्रेय वहां के कर्मचारियों, अध्यापकों व चिकित्सकों को जाता है।

इस मौके पर आम आदमी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने पिछले चार साल के दौरान हरियाणा में विपक्ष की भूमिका निभाते हुए कर्मचारियों की हर मांग का समर्थन करते हुए सरकार के विरूद्ध किए गए संघर्ष में उनका साथ दिया है। नवीन जयहिंद ने कहा कि कर्मचारियों द्वारा किए जाने वाले हर संघर्ष में आम आदमी पार्टी के तमाम कार्यकर्ता बढ़चढ़ उनका साथ देंगे।

Comments

Translate »