लखीमपुर खीरी हत्याकांड पर भड़का विपक्ष, सीएम ममता बनर्जी, भूपेश बघेल सहित इन नेताओं ने की कड़ी आलोचना

0
लखीमपुर खीरी हत्याकांड पर भड़का विपक्ष, सीएम ममता बनर्जी, भूपेश बघेल सहित इन नेताओं ने की कड़ी आलोचना

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में बीजेपी के मंत्री के बेटे और किसानों के बीच हुए टकराव के बाद हुई हिंसक घटना में 8 लोगों की मौत हो गई है। किसानों की हत्या को लेकर विपक्ष के नेता विरोध जता रहे हैं। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल और पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी सहित तमाम विपक्षी दलों के नेताओं ने इस घटना की कड़ी निंदा की है और दोषियों को सजा देने की मांग की है।

ममता बनर्जी का बयान 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सीएम योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली यूपी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि यूपी में रामराज नहीं बल्कि हत्या राज चल रहा है। ममता बनर्जी ने कहा कि किसानों की हत्या की गई है। कई घायल हो गए हैं। वह लोकतंत्र पर विश्वास नहीं करते। इसलिए 144 धारा लगाई गई है। यह प्रजातंत्र को समाप्त करना चाहते हैं। केवल तानाशाही है। वे लोगों को जाने नहीं देते हैं। लोगों को मिलने नहीं देते हैं ।

सीएम भूपेश बघेल 

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा,” हमारी मांग है कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री को बर्खास्त किया जाना चाहिए और उनके बेटे के ऊपर हत्या का मामला दर्ज किया जाना चाहिए और तत्काल उसकी गिरफ्तारी होनी चाहिए तथा सुप्रीम कोर्ट के सिटिंग जस्टिस की जांच होनी चाहिए।

केसी वेणुगोपाल

कांग्रेस पार्टी के केसी वेणुगोपाल ने कहा,” किसान काले कृषि कानूनों के खिलाफ शांतिपूर्ण धरना दे रहे हैं। सरकार नहीं मान रही है। इसलिए वे सड़कों पर हैं। केंद्रीय मंत्री के बेटे की गाड़ी से उन्हें कुचल देने की घटना को आप कैसे जस्टिफाई कर सकते हैं। लोकतंत्र किस दिशा में जा रहा है?”

सचिन पायलट

कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने कहा,” उत्तर प्रदेश में जो भयानक हादसा सामने आया है. उसको देखने के बाद सबका दिल दहल गया था और अब कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वहां जाना चाहती थी तो उत्तर प्रदेश की पुलिस और प्रशासन ने उनके साथ जो व्यवहार किया है उसकी हम भर्त्सना करते हैं। हम घटना की न्यायिक जांच की मांग करते हैं.”

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी

वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा,” मैं शोक संतप्त किसानों के परिवारों के साथ एकजुटता व्यक्त करते हुए इस दुख की घड़ी में अपने भाइयों और बहनों के साथ रहने के लिए लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हो रहा हूं। मैंने यूपी सरकार से हेलीकॉप्टर को साइट पर उतारने की अनुमति भी मांगी है। उत्तर प्रदेश के गृह विभाग ने पंजाब के मुख्यमंत्री के पत्र का जवाब देते हुए कहा कि पंजाब सरकार के नागरिक उड्डयन विभाग को पत्र लिखकर कहा गया कि लखीमपुर खीरी में धारा 144 लागू होने के कारण पंजाब के सीएम और डिप्टी सीएम को लखीमपुर खीरी में आने की अनुमति देना संभव नहीं है।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा,” मेरी समझ से परे है कि यह यूपी की पुलिस प्रशासन सरकार विपक्षी नेताओं को क्यों रोकती है? ऐसा नहीं होना चाहिए। राजस्थान में जब कभी भी कोई घटना हुई है तो हमने कभी किसी को नहीं रोका। क्योंकि विपक्ष के जाने से ही हो सकता है और सच्चाई सामने आ जाए।

वही उत्तर प्रदेश के एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने कहा कि कोई भी दोषी व्यक्ति बख्शा नहीं जाएगा। बहुत जल्द गिरफ्तारी की जाएगी। तहरीर पर समूची धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here