बिकनी,घूंघट,जींस या हिजाब पहनना महिलाओं का सवैंधानिक अधिकार है: प्रियंका गांधी

कर्नाटक के उडुपी के मणिपाल स्थित महात्मा गांधी मेमोरियल कॉलेज से शुरू हुआ हिजाब विवाद काफी तूल पकड़ता जा रहा है। हिजाब विवाद पर कांग्रेस नेत्री प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि ये महिलाओं का अधिकार है कि उन्हें क्या पहनना है।

उडुपी के MGMC कॉलेज से शुरू हुआ हिजाब विवाद अब काफी तूल पकड़ता जा रहा है। इस विवाद पर लोग तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। इस मसले पर कांग्रेस नेत्री प्रियंका गांधी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने एक ट्वीट कर इसे महिलाओं का सवैंधानिक अधिकार बताया है। प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्विटर के जरिए अपनी राय रखी है। उन्होंने लिखा ,” चाहे बिकनी हो , घूंघट हो , जींस की जोड़ी हो या हिजाब, यह तय करना एक महिला का अधिकार है कि वह क्या पहनना चाहती है। यह अधिकार भारतीय संविधान द्वारा दिया गया है। महिलाओं को प्रताड़ित करना बंद करें। ”

प्रियंका गांधी से पहले मंगलवार के दिन नोबल पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई ने भी हिजाब विवाद पर अपनी टिप्पणी दी थी। उन्होंने एक एक ट्वीट के जरिए इसे बहुत भयावह बताया था और भारतीय नेताओं से मामले में दखल देने की अपील की थी।

क्या है मामला ?

कर्नाटक के उडुपी के सरकारी कॉलेज में कुछ लड़कियों ने आरोप लगाया था कि हिजाब पहनने के कारण उन्हें कॉलेज के कैंपस और क्लास में प्रवेश करने की इजाजत नहीं दी जा रही है। दूसरी तरफ कुछ छात्र भगवा गमछा पहनकर हिजाब का विरोध कर रहे हैं। हालांकि राज्य सरकार ने इस मामले को शांत करने के लिए स्कूलों और कॉलेजों को तीन दिन केलिए बंद कर दिया है। हिजाब विवाद पर अदालत में सुनवाई चल रही है।

Comments

Translate »