राजनीती में प्रियंका गाँधी की एंट्री,बनी यूपी की महासचिव

फरवरी के पहले सप्ताह में संभालेंगी पदभार

नई दिल्लीः आगामी लोकसभा चुनावों को मद्देनजर रखते हुए कांग्रेस का बड़ा फैसला। प्रियंका गाँधी वाड्रा को दी पूर्वी उत्तर प्रदेश महासचिव की जिम्मेदारी। आज बुधवार को कांग्रेस पार्टी ने की घोषणा।

ये पहली बार है जब प्रियंका गाँधी वाड्रा को कोई पद दिया गया है। इससे पहले उन्होंने संसदीय क्षेत्र राय बरेली और अमेठी में अपनी माता श्रीमती सोनिया गाँधी और भाई राहुल गाँधी के लिए चुनाव प्रचार किया था।

कांग्रेस पार्टी द्वारा की गई दूसरी घोसनाओं में ज्योतिरादित्य सिंधिया को पश्चिमी उत्तर प्रदेश का महासचिव बनाया गया है। केसी वेणुगोपाल को संगठन महासचिव का पदभार सौंपा गया है। श्री वेणुगोपाल कर्नाटक के महासचिव का पदभार भी संभालते रहेंगे।

फोटो: जारी किया गया पत्र

आपको बता दें इससे पहले ग़ुलाम नबी आज़ाद उत्तर प्रदेश के महासचिव थे। अब उनको हरियाणा का प्रभार सौंपा गया है। प्रियंका वाड्रा गाँधी की राजनीती में एंट्री से उनके प्रशंसक बेहद खुश नजर आ रहे हैं।

कयास लगाए जा रहे हैं कि श्रीमती वाड्रा के राजनीती में प्रवेश से पार्टी का ग्राफ आगामी लोकसभा चुनावों में बढ़ेगा। अपने दम पर उत्तर प्रदेश की सभी 80 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने वाली कांग्रेस प्रियंका गाँधी को चुनावी मैदान में भी उतार सकती है।

And the celebrations begin in Raebareli! Dhol, nagada, laddoos and firecrackers out as supporters celebrate the entry of #PriyankaGandhi in active politics. pic.twitter.com/bb7LnV2WT2— Prashant Kumar (@scribe_prashant) January 23, 2019

राय बरेली में प्रियंका गाँधी के प्रशंसक ढोल,नगाड़ा,और पटाखे बजा कर और लड्डू बांटकर ख़ुशी मनाते हुए

Comments

Translate »