शोधकर्ताओं ने किया खुलासा, चाय पीने से बढ़ती है मेमोरी

साल 2015 से 2018 के बीच 60 साल की उम्र के 36 बुजुर्गों पर किए गए अध्ययन में पाया गया कि चाय पिने वाले बिना चाय पीने वालों की एवज में दिमागी रूप से ज्यादा स्वस्थ रहते हैं। इस शोध में उनकी सेहत ,जीवन शैली और मानसिक सेहत का डेटा इकट्ठा किया गया।

नियमित रूप से चाय पीने वाले लोगों के दिमाग हिस्सा चाय नहीं पीने वाले लोगों की तुलना में बेहतर ढंग से संगठित रहता है। दिमाग के प्रत्येक हिस्से का व्यवस्थित रहना स्वस्थ संज्ञानात्मक क्रिया से जुड़ा हुआ है।

एजिंग डॉट कॉम पत्रिका के अनुसार ,नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ़ सिंगापुर‌ के टीम लीडर ‘फेंग लेई’ ने कहा , ” हमारे परिणाम मस्तिष्क के ढांचे पर चाय पीने से पड़ने वाले सकारात्मक योगदान की पहल की पुष्टि करते हैं और दर्शाते है कि नियमित रूप से चाय पीना दिमागी तंत्र में उम्र के कारण आने वाली गिरावट से भी बचाता है। ”

शोधकर्ताओं के अनुसार चाय पीना दिमागी सेहत के लिए लाभकारी है। इसके सकारात्मक प्रभावों से मिज़ाज में सुधार होना और हृदय और नसों की बीमारी से बचाना शामिल है। इस शोध में प्रतिभागियों के परिणाम दिखाते हैं कि जो लोग करीब 25 साल तक हफ्ते में कम से कम चार बार ग्रीन टी और ब्लैक टी पीते है, उनके दिमाग के हिस्से ज्यादा प्रभावी रूप से काम करते हैं।

Comments

Translate »