आईएएस रानी नागर द्वारा त्यागपत्र देना हरियाणा सरकार की नाकामी है:योगेश्वर शर्मा

आम आदमी पार्टी ने युवा आईएएस रानी नागर द्वारा दिए गए त्यागपत्र पर अफसोस जाहिर करते हुए चिंता व्यक्त की है। पार्टी का कहना है कि युवा अधिकारी का इस तरह से अपने पद से त्यागपत्र देना गंभीर विषय है।

योगेश्वर शर्मा

आम आदमी पार्टी हरियाणा के उत्तरी जोन सचिव योगेश्वर शर्मा ने रानी नागर के त्यागपत्र को हरियाणा सरकार की भी नाकामी बताया है। उन्होंने कहा यदि इस प्रकार एक आईएएस अधिकारी ही अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित है और इसी वजह से अपनी नौकरी तक छोड़ देता है तो इससे बड़ी सरकार की विफलता और क्या होगी।

रानी नागर का त्यागपत्र

शर्मा ने कहा ,” रानी नागर ने अपना त्यागपत्र देने के साथ-साथ अपने फेसबुक एकाउंट पर अपना दर्द भी ब्यान किया कि उनके बार-बार कहने के बावजूद सुरक्षा मुहैया नहीं करवाई गई। रानी नागर और बहन को अपनी जान का खतरा है। “

सरकार पर निशाना साधा

योगेश्वर शर्मा ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर हरियाणा सरकार अपनी एक महिला आईएएस अधिकारी को ही सुरक्षा प्रदान नहीं कर पाती तो आम आदमी को क्या सुरक्षा मुहैया कराएगी ?

त्यागपत्र स्वीकार ना करें

उन्होंने कहा कि महिला अधिकारी रानी नागर का त्यागपत्र स्वीकार ना किए जाने की मांग की है। कहा कि सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों खासकर मुख्य सचिव को रानी नगर को बुलाकर उनसे बात करनी चाहिए तथा उनकी समस्या का समाधान करना चाहिए।

जान का खतरा

आप हरियाणा सचिव ने कहा कि यह सरकार का दायित्व बनता है कि वह रानी की समस्या का समाधान करे और उन्हे किससे जान का खतरा है, इसका पता लगाये।

उन्होंने कहा कि अगर सरकार अपनी ही एक महिला अधिकारी की समस्या का हल नहीं कर पाती तो अन्य महिलाओं के मामलों का हल कैसे करेगी ? ऐसे में सरकार का बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ का नारा भी खोखला साबित हो रहा है।

Comments

Translate »