देश के लोकतंत्र का भविष्य लोकसभा चुनावों पर निर्भर:यशवंत सिन्हा

पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने बंगाल में तृणमूल पार्टी प्रत्याशी मून मून सेन के लिए आसनसोल में किया प्रचार। नरेंद्र मोदी सरकार के सबसे मुखर आलोचकों में से एक हैं यशवंत सिन्हा।

पूर्व बीजेपी नेता,वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी पर पश्चिम बंगाल के आसनसोल में हमला बोलते हुए कहा , “इन लोकसभा चुनाव के परिणामों से ही देश के लोकतंत्र का भविष्य तय होगा। यह चुनाव देश के लोकतंत्र के भविष्य के लिए एक लड़ाई है ,जिस पर हर दिन प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और सत्ताधारी पार्टी द्वारा हमला किया जा रहा है। यह भारत के उन विचारों के लिए लड़ाई है जिनको हम सदियों से जानते हैं। इसलिए ये चुनाव और इनका परिणाम बहुत महत्वपूर्ण है।”

पूर्व वित्त मंत्री श्री सिन्हा ने विमुद्रीकरण को एक बहुत भयावह डिज़ाइन किया हुआ बताया। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि विमुद्रीकरण से कालाधन के आयोग के लिए सफेद हो गया जो चुनावी बांड के रूप में भाजपा में आया है।

“नोटबंदी न सिर्फ एक जल्दबाजी में लिया गया फैसला था बल्कि काले धन पर कब्जा करने ,काले धन को सफेद करने और 40% कमिशन लेने के लिए किया गया था। चुनावी बांड के जरिए पैसा भाजपा के पास आया है। यह वः पैसा है जिसने हाल ही चुनावों में भाजपा को फायदा पहुंचाया है। राफेल जेट खरीद की प्रक्रिया में भी कुछ गंभीर था। चुनाव आयोग प्रधान मंत्री के खिलाफ करवाई करने मन असमर्थ है” श्री यशवंत सिन्हा ने कहा।

Comments

Translate »