केंद्र सरकार अपनी जिद छोड़कर किसानों की मांगों को माने :योगेश्वर शर्मा

पिछले छह माह में किसान आंदोलन को खत्म करने के लिए केंद्र सरकार ने सभी हथकंडे अपना लिए मगर सफल नहीं हो पाई । सरकार अपनी जिद छोड़े और किसानों की मांगों को स्वीकार करे : योगेश्वर शर्मा

AAP का किसानों को समर्थन

आम आदमी पार्टी ने अपने घोषित कार्यक्रम के अनुसार आज चंडीमंदिर टोल प्लाजा पर किसानों के समर्थन में काले झंड़े लहराये और केंद्र, हरियाणा सरकार के खिलाफ अपना विरोध प्रदर्शन किया। पार्टी के उत्तरी हरियाणा जोन के सचिव योगेश्वर शर्मा के नेतृत्व में किए गए इस विरोध प्रदर्शन में आप कार्यकर्ताओं ने किसानों संग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्र सरकार व हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इन प्रदर्शनकारियों ने प्रदर्शनस्थल पर प्रधानमंत्री का पुतला भी विरोध स्वरुप फूंका। इससे पहले आप नेताओं ने अपने अपने घरों की छत्तों पर पार्टी झंडे के साथ साथ काले झंड़े लगाकर सरकार का विरोध किया।

योगेश्वर शर्मा ने सरकार से किसानों की मांगो के मानने की बात कही

प्रदर्शन के दौरान उपस्थित किसानों और ‘आप’ कार्यकर्ताओं एवं नेताओं को संबोधित करते हुए आप नेता योगेश्वर शर्मा ने कहा कि बड़े ही दुख की बात है कि किसानों के आंदोलन को पूरे छह माह हो चुके हैं, मगर केंद्र की हठी सरकार उनकी मांगे मानने को तैयार नहीं है। जबकि ये खुद को किसानों का हितैषी होने का दावा करते हैं।

उन्होंने कहा कि इस छह माह के दौरान किसानों ने सर्दी, गर्मी, बारिश के साथ साथ अपने साथियों को खोने के आलावा अपने खिलाफ केंद्र व हरियाणा सरकार की साजिशों आदि को बहुत कुछ झेला है। उन्होंने कहा कि दोनों सरकारों ने किसानों के इस आंदोलन को तोडऩे के लिए कई हथकंड़े अपनाये। उन पर झूठे केस भी बनाये, मगर सफलता हाथ नहीं लगी।

शर्मा ने कहा कि सरकार को किस बात की जिद है कि वह किसानों की मांग मानने को तैयार नहीं है? यह बात समझ से परे है। उन्होंने कहा कि वह और उनकी पार्टी किसानों के इस बुलंद हौंसले को सलाम करते हैं और उनहें पूरी तरह से आश्वास्त करते हैं कि वे उनके इस आंदोलन में पूरी तरह से उनके साथ हैं। उन्होंने कहा कि देश के अन्नदाता के हित में अपना अहम छोडक़र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार को इन किसानों से बात करके उनकी मांगे मानकर उनका आंदोलन खत्म करवाना चाहिए, क्योंकि ज्यादा जिद भी अच्छी नहीं होती।

सुरेंद्र राठी तीनों काले कानूनों को वापस लेने की बात कही

इस अवसर पर ‘आप’ के जिला प्रधान सुरेंद्र राठी ने कहा कि इतिहास साक्षी है कि देश के अन्नदाता को नाराज कर कोई सरकार ज्यादा समय तक टिक नहीं पाई है, तो ये सरकारें भी कहां टिक पायेंगी। उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश, हरियाणा और पंजाब सहित देश का समूचा किसान वर्ग एकजुट होकर इस सरकार की जड़ें हिलाकर रख देगा।

उन्होंने कहा कि यदि समय रहते केंद्र की भाजपा सरकार ने किसानों की मांगे न मानी तो पश्चिम बंगाल के बाद भाजपा को उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड से तो चलता किया जाएगा ही साथ में पंजाब से भी उसका सूपड़ा साफ कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि ये किसान हैं और बिना मांगे मनवाये तो ये भी अपने घरों को वापिस नहीं जाने वाले। अत: सरकार को अपने तीनों काले कानून वापिस लेने चाहिए ताकि किसान भी अपने घरों को खुशी-खुशी लौट जाएं।

Comments

Translate »