पिछले 8 साल से एक शख्स कचरे में ढूंढ रहा है 27 करोड़ डॉलर का पासवर्ड, जानिए क्या है मामला

0
पिछले 8 साल से एक शख्स कचरे में ढूंढ रहा है 27 करोड़ डॉलर का पासवर्ड, जानिए क्या है मामला
पिछले 8 साल से एक शख्स कचरे में ढूंढ रहा है 27 करोड़ डॉलर का पासवर्ड, जानिए क्या है मामला
फोटोः बिटकॉइन

एक ब्रिटिश व्यक्ति जेम्स हॉवेल्स पिछले 8 साल से उस हार्ड ड्राइव को ढूंढ रहा है जिसमें 7500 बिटकॉइन थे। न्यूपोर्ट वेल्स के एक 35 वर्षीय आईटी इंजीनियर जेम्स हॉवेल्स ने क्रिप्टोकरंसी का धंधा शुरू किया था।

क्रिप्टोकरंसी का धंधा

जेम्स हॉवेल्स ने 230 मिलियन डॉलर के बिटकॉइन के साथ एक हार्ड ड्राइव को काफी साल पहले कचरे में फेंक दिया था। लेकिन अब बिटकॉइन की कीमत बढ़ जाने पर वह उसे ढूंढने की कोशिश कर रहा है। जेम्स हॉवेल्स स्थानीय अधिकारियों से डिवाइस लैंडफिल साइट से खोजने के लिए मनाने की कोशिश कर रहा है।

हार्ड ड्राइव में था पासवर्ड 

मेट्रो न्यूज के अनुसार 2013 में न्यूपोर्ट वेल्स के एक 35 वर्षीय आईटी इंजीनियर जेम्स हॉवेल्स ने क्रिप्टोकरंसी का धंधा शुरू किया। वह अपने ऑफिस में सफाई कर रहा था जब उसने बिटकॉइन के साथ हार्ड ड्राइव को कचरे में फेंक दिया था। आज जेम्स हॉवेल्स उस हार्ड ड्राइव को खोजने के लिए कूड़े के ढेर की खाक छान रहा है। क्योंकि उसमें 7500 बिटकॉइन थे। जिनकी कीमत लगभग 27 करोड़ डॉलर के आसपास है। जिसकी भारतीय मुद्रा में 1971 करोड रुपए कीमत है।

जेम्स हॉवेल्स का कहना है कि उसने उस हार्ड ड्राइव को गलती से फेंक दिया था। जो अचानक हुई घटना थी। आज जब एक बिटकॉइन की कीमत 36000 डॉलर यानी 26.28 लाख रुपए है। जेम्स हॉवेल्स ने सिटी काउंसिल को ऑफर दिया है कि वह अगर शहर के कचरे में से उसका ड्राइव को ढूंढ निकालें तो नगर प्रशासन को बड़ी रकम देंगे।

जेम्स ने कहा है कि वह अब पर्यावरण के नियमों का पालन करते हुए ग्रिड सेफ्टी रिफरेंस से उस हार्ड ड्राइव को कचरे के उसी क्षेत्र में ढूंढ रहे हैं। डाटा रिकवरी स्पेशलिस्ट हार्ड ड्राइव को ठीक कर सकता है। भले ही वह टूट-फूट ही क्यों ना गया हो।

फंडिंग करने वाले को 50 फ़ीसदी हिस्सा

उन्होंने यहां तक कहा कि जो व्यक्ति उसे खोजने में फंडिंग करेगा उसे उसका 50 फ़ीसदी हिस्सा मिलेगा और 25 फ़ीसदी न्यूपोर्ट के लोगों को। वह खुद 25 फीसदी ही अपने पास रखेंगे। लेकिन जेंट्स का दुर्भाग्य यह है कि शहर के प्रशासन ने उसकी मांगों को मानना तो दूर बल्कि उससे इस संबंध में बैठक तक करने से इनकार कर दिया है।

स्थानीय प्रशासन का कहना है कि इतनी बड़ी खुदाई और खोज अभियान में वातावरण पर बुरा प्रभाव पड़ेगा। उनका कहना है कि कचरे को वहां से हटाने और फिर उसमें खोजबीन करने में ही कई मिलियन पाउंड खर्च हो जाएंगे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here