जम्मू कश्मीर के बाद अब पंजाब के अमृतसर में सीमा पार से ड्रोन के जरिए गिराई गई विस्फोटक सामग्री

पंजाब पुलिस ने रविवार के दिन अमृतसर के गांव से लगभग 3 किलोग्राम विस्फोटक सामग्री से भरे टिफिन बॉक्सों को बरामद किया है। इस बात की जानकारी पंजाब पुलिस के DIG दिनकर गुप्ता ने दी है।

ड्रोन अटैक का खतरा मंडराने लगा

J&k के बाद अब पंजाब में भी ड्रोन अटैक का खतरा मंडराने लगा है। पंजाब पुलिस ने अमृतसर के एक गांव से विस्फोटक से भरे टिफिन बॉक्सों में से हैंड ग्रेनेड सहित विस्फोटक सामग्री बरामद की है। पंजाब पुलिस प्रमुख दिनकर गुप्ता ने कहा कि पुलिस केंद्रीय एजेंसियों के साथ इस केस पर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि संदेह जताया जा रहा है कि आईईडी विस्फोटक और हैंड ग्रेनेड को सीमा पार से ड्रोन के जरिए गिराया गया है। हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि आतंकियों की तरफ से किसे निशाना बनाया जा सकता था।

सीमा पार से गिराई गई सामग्री 

डीजीपी गुप्ता ने कहा,” हमारा मानना है कि यह आईडी और ग्रेनेड सीमा पार से ड्रोन के जरिए गिराए गए हैं। यह रिमोट से ऑपरेट होने वाले खतरनाक डिवाइस हैं। इन्हें बैटरी की मदद से ऑपरेट किया जा सकता है । रविवार के दिन पंजाब के अमृतसर के एक गांव में विस्फोटक सामग्री पाई गई। हालांकि पंजाब पुलिस प्रमुख गुप्ता ने सोमवार के दिन मीडिया से बातचीत करते हुए किसी भी आतंकी संगठन के बारे में इस मामले में जिक्र नहीं किया है। लेकिन उन्होंने यह जरूर कहा कि हमें इस बात की जानकारी है कि इन सब के पीछे किसका हाथ है। उन्होंने कहा कि आतंकियों की एक बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया गया है।

पंजाब पुलिस प्रमुख ने दी यह जानकारी 

डीजीपी गुप्ता ने कहा कि इस केस में के सामने आने के बाद से हम राष्ट्रीय जांच एजेंसी और सीमा सुरक्षा बल के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने आम लोगों से अपील की है कि यदि वे कोई बसों यह अन्य पब्लिक ट्रांसपोर्ट में यात्रा करते हैं तो वह अपने आसपास किसी संदिग्ध वस्तु को देखते हैं तो इसकी सूचना पुलिस को जरूर दें। स्वतंत्रता दिवस के एक सप्ताह पहले इस तरह के विस्फोटक मिलना चिंताजनक है। इस घटना के बाद पंजाब में अलर्ट जारी कर दिया गया है।

आपको बता दें इससे पहले जम्मू स्थित एयर फोर्स के स्टेशन में एक के बाद एक दो विस्फोट हुए थे। इन विस्फोटों में दो लोग घायल हुए थे। जिसके बारे में आशंका जताई जा रही थी कि यह ड्रोन के जरिए पाकिस्तान द्वारा की गई हरकत है। फिलहाल इस मामले की जांच चल रही है।

Comments

Translate »