भावना कंठ बनी पहली मिग-21 लड़ाकू पायलट अधिकारी

भारतीय वायुसेना की फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कंठ बनी लड़ाकू विमान मिग 21 बाइसन की पहली पायलट। भावना कंठ साल 2017 में फाइटर स्क्वाड्रन में शामिल हुई थी।

फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कंठ ने मार्च 2018 में मिग 21 बाइसन की पहली एकल उड़ान भरी थी। अपने समर्पण ,कड़ी मेहनत और दृढ़ता के कारण वह यह उपलब्धि हासिल करने वाली भारतीय वायुसेना की पहली महिला अधिकारी बन गई है। भावना कंठ भारतीय वायुसेना के महिला लड़ाकू पायलटों के पहले बैच से है।

फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कंठ ने मिग 21 बाइसन एयरक्राफ्ट डे पर ऑपरेशनल सिलेबस पूरा करके अपनी टोपी में एक और गौरव का पंख जोड़ लिया है। फाइटर एयरक्राफ्ट के इतिहास में भावना कंठ पहली महिला लड़ाकू पायलट अधिकारी है जो लड़ाकू विमान से दिन में मिशन करने के लिए योग्य बन गई है।

आपको बता दें ,27 फरवरी 2019 को भारतीय वायुसेना  के विंग कमांडर अभिनंदन वर्थमान ने मिग 21 बाइसन से पाकिस्तान के दो एफ-16 लड़ाकू विमानों को भारत पाकिस्तान की सीमा के पास ध्वस्त किया था। इस डॉग फाइट में अभिनंदन का विमान भी क्षतिग्रस्त हो गया था। विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान की सेना ने गिरफ्तार कर लिया था। दो दिन बाद अभिनंदन की रिहाई हो गई थी।

Comments

Translate »