पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक को लेकर सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने सरदार पटेल के कथन को लेकर साधा केंद्र सरकार पर निशाना

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि पीएम मोदी की सुरक्षा को कोई खतरा नहीं था। यह पंजाब को बदनाम करने की साजिश है। स्वतंत्रता संग्राम में हिस्सा लेने वाले सबसे अधिक लोग पंजाब से हैं। ऐसे में पंजाब और पंजाबियों पर इस तरह के आरोप लगाना पूरी तरह गलत है।

सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने पीएम नरेंद्र मोदी की सुरक्षा चूक प्रकरण में भारतीय जनता और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पलटवार किया है। चन्नी  ने बीजेपी के आदर्श पुरुष रहे देश के प्रथम गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल के एक कथन का उल्लेख करते हुए केंद्र सरकार और पीएम मोदी पर हमला बोला है।

चन्नी ने ट्वीट कर साधा निशाना

भारत के महान स्वतंत्रता सेनानी सरदार पटेल की तस्वीर के साथ सीएम चन्नी ने ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने लिखा,” जिसे कर्तव्य से ज्यादा जान की फिक्र हो, उसे भारत जैसे देश में बड़ी जिम्मेदारी नहीं लेनी चाहिए।”

मुख्यमंत्री चन्नी ने एक इंटरव्यू में कहा कि बीजेपी ने उन आरोपों पर प्रतिक्रिया दी थी। जिसमें कहा गया था कि पंजाब की कांग्रेस सरकार ने हत्या के इरादों से के साथ प्रधानमंत्री मोदी के जीवन को खतरे में डाला था और जानबूझकर उनकी सुरक्षा में चूक कराई।

सीएम चन्नी का ट्वीट

उन्होंने कहा उनके जीवन के लिए खतरा कहां था? आप के 1 किलोमीटर के दायरे में कोई नहीं था, कोई पत्थर नहीं फेंका गया, कोई गोली नहीं चलाई गई , कोई नारे नहीं लगाए गए। आप कैसे कह सकते हैं कि ऐसा मैंने करवाया था ? इतने बड़े नेता का इतना संवेदनशील बयान ? लोगों ने आप को पीएम के रूप में वोट दिया। आपको जिम्मेदारी भरा बयान देना चाहिए। आप कह रहे हैं कि हम अपने प्रधानमंत्री को मारना चाहते हैं ।”

बयान को आधारहीन बताया

एक इंटरव्यू के दौरान सीएम चन्नी ने यहां तक कहा कि अगर प्रधानमंत्री की तरफ कोई गोली आएगी तो सबसे पहले मेरी छाती पर लगेगी। इससे ज्यादा मैं और क्या करूं।  उन्होंने पीएम मोदी के बयान को आधारहीन बताया है।

Comments

Translate »