Site icon www.4Pillar.news

सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक के कोरोना वैक्सीन को DCGI ने दी मंजूरी

शनिवार के दिन सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी ने भारत बायोटेक के कोविड-19 कोवैक्सीन कुछ शर्तों के साथ का आपातकालीन इस्तेमाल के लिए मंजूरी देने की सिफारिश की थी। इससे पहले सिरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया के वैक्सीन कोविडशील्ड को एक्सपर्ट कमेटी ने पहले ही मंजूरी दे दी थी।

डीसीजीआई प्रमुख वी जी सोमानी ने कहा,” यदि सुरक्षा से जुड़ी थोड़ी सी भी शंका होती तो हम किसी भी चीज को अनुमति नहीं देंगे। दोनों वैक्सीन शत प्रतिशत सुरक्षित है।

भारत में कोरोना वैक्सीन को लेकर अब इंतजार खत्म हो गया है। ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया से सीरम इंस्टिट्यूट आफ इंडिया और भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन को आपातकालीन इस्तेमाल की अंतिम मंजूरी मिल गई है।

डीसीजीआई ने रविवार के दिन एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह बात कही है। ड्रग कंट्रोलर जनरल आफ इंडिया के प्रमुख वी जी सोमानी ने कहा कि दोनों कंपनियों ने ट्रायल के दौरान के आंकड़े जमा किए थे और दोनों को सीमित उपयोग के लिए मंजूरी दी जाती है। डीसीजीआई प्रमुख ने कहा कि यदि सुरक्षा से जुड़ी थोड़ी सी भी शंका होती तो हम कभी किसी भी चीज को अनुमति नहीं देंगे दोनों वैक्सीन 100 फ़ीसदी सुरक्षित हैं।

भारत बायोटेक की वैक्सीन को क्लिनिकल ट्रायल मोड में आपातकालीन हालात में बहुत सावधानी के साथ इस्तेमाल की मंजूरी मिली है। इसका मतलब यह है कि वैसलीन लगाने के समय वही सारे प्रोटोकॉल फॉलो किए जाएंगे जो क्लीनिकल ट्रायल करते समय होते हैं। इस वैक्सीन को देने के पैमाने और ना देने के पैमाने हैं। जैसे कि अगर किसी व्यक्ति को कोरोना हो चुका है तो उसको यह वैक्सीन नहीं दी जा सकती है।

Exit mobile version