सिद्दू मूसे वाला की हत्या का असली मास्टरमाइंड लॉरेंस बिश्नोई है: दिल्ली पुलिस

पंजाबी सिंगर और कांग्रेस नेता सिद्दू मूसे वाला कि 29 मई को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जिसकी जिम्मेदारी बिश्नोई गैंग के मेंबर गोल्डी बरार ने ली थी। अब दिल्ली पुलिस ने इस मामले में अहम खुलासा किया है।

लॉरेंस बिश्नोई ही है असली मास्टरमाइंड

दिल्ली पुलिस ने बताया कि पंजाबी सिंगर सिद्दू मूसे वाला हत्याकांड में लॉरेंस बिश्नोई ही असली मास्टरमाइंड है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के सीपी धालीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि सिद्धू मूसे वाला के मर्डर में मास्टरमाइंड लॉरेंस बिश्नोई है जो कि दिल्ली की जेल में बंद है। पुलिस अधिकारी ने यह भी बताया कि महाकाल के करीबी सूत्र ने मूसे वाला को गोली मारी थी।

प्लानिंग के साथ की गई हत्या

पंजाब और दिल्ली पुलिस लॉरेंस बिश्नोई से लंबे समय से पूछताछ कर रही है। पुलिस के अनुसार मुसे वाला की हत्या की प्लानिंग बहुत पहले ही हो गई थी। उसके बाद में प्लान के आधार पर हत्या को अंजाम दिया गया। पुलिस के अनुसार हत्याकांड में आरोपियों के नाम सामने आए हैं। उनमें से एक गायक का काफी बताया गया है। दिल्ली पुलिस के अनुसार वह पहले साथ में गोली भी चलाया करते थे। ऐसे में दोनों एक दूसरे से जानते थे।

29  मई को हुई थी हत्या

आपको बता दें, सिंगर सिद्दू मूसे वाला की 29  मई को अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इससे पहले कहा था कि कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई को हथियार अधिनियम से जुड़े एक मामले में अदालत के सामने पेश किया जाएगा। पंजाब पुलिस ने भी कहा था कि मुसे वाला की हत्या के पीछे लारेंस बिश्नोई गैंग का हाथ था। गिरोह के सदस्य और कनाडा में रह रहे गोल्डी बरार ने इस हत्या की जिम्मेदारी ली है।

पंजाब पुलिस ने मंगलवार के दिन बताया कि सिद्धू मूसे वाला की हत्या के संबंध में पुलिस ने 8 लोगों को अरेस्ट किया है। हमले के कुछ दिन पहले राज्य सरकार ने सिद्दू मूसे वाला की सुरक्षा में कटौती की थी। इस हमले में मुसेवाला के एक चचेरे भाई और दोस्त भी घायल हो गए थे।

Comments

Translate »